DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

BJP छत्तीसगढ़ में सभी 10 मौजूदा सांसदों को नहीं देगी टिकट, नए चेहरों पर लगाएगी दांव

bjp flag

भाजपा ने एक बड़ा निर्णय करते हुए आगामी लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के सभी 10 मौजूदा सांसदों की जगह नये चेहरों को उतारने की घोषणा की है। यह फैसला ऐसे समय में किया गया है जब पिछले साल राज्य विधानसभा चुनाव में पार्टी को बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। भाजपा के महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी अनिल जैन ने इसकी घोषणा की।

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने आगामी आम चुनाव के लिए यहां उम्मीदवारों को लेकर विचार विमर्श किया। केंद्रीय समिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के अन्य शीर्ष नेता शामिल हैं। जैन ने संवाददाताओं से कहा, ''हमने नये उम्मीदवारों और नये उत्साह के साथ चुनाव लड़ने का निर्णय किया है।"

अरुणाचल: BJP के 2 मंत्रियों और 12 विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दिया

पार्टी के इस फैसले का मतलब है कि केंद्रीय मंत्री विष्णु देव साई और सात बार के लोकसभा सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रमेश बैस को चुनावों में नहीं उतारा जाएगा। भाजपा को पिछले साल विधानसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा था। पार्टी अपना खोया हुआ आधार फिर से पाने का प्रयास कर रही है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने राज्य में 68 सीटें जीती थी। राज्य में 15 साल शासन कर चुकी भाजपा को 15 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था। दोनों दलों की वोट हिस्सेदारी में 10 प्रतिशत का अंतर था।

लोकसभा चुनाव: गाजियाबाद से डॉली शर्मा को टिकट देकर कांग्रेस ने चौंकाया

सूत्रों ने बताया कि भाजपा इस पर भी विचार कर रही है कि मौजूदा सांसदों के परिवार के भी किसी सदस्य चुनाव में नहीं उतारा जाए। पार्टी ने यह मानदंड अपनाया तो पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की संभावित उम्मीदवारी भी सवालों के घेरे में आ जाएगी, क्योंकि उनके पुत्र अभिषेक सिंह वर्तमान सांसद हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP change all sitting MPs in Chhattisgarh For Lok sabha Elections Bring 11 new Face