ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशअमित शाह का तेलंगाना दौरा रद्द, जेपी नड्डा जाएंगे बिहार; भाजपा कर सकती है बड़ा खेला

अमित शाह का तेलंगाना दौरा रद्द, जेपी नड्डा जाएंगे बिहार; भाजपा कर सकती है बड़ा खेला

बिहार में भाजपा और जेडीयू के बीच तालमेल की पूरी तैयारी हो गई है। रविवार को इस बारे में पटना में भावी रणनीति पर अमल किया जाएगा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के भी रविवार को पटना जाने की संभावना है।

अमित शाह का तेलंगाना दौरा रद्द, जेपी नड्डा जाएंगे बिहार; भाजपा कर सकती है बड़ा खेला
Himanshu Jhaहिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Sun, 28 Jan 2024 06:38 AM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Politics: बिहार के तेजी से बदल रहे सियासी घटनाक्रम और जेडीयू के साथ भाजपा के भावी गठबंधन की तैयारियों के बीच पार्टी ने राज्य के अपने संगठन तथा नेताओं को भरोसे में लेने में जुटा है। साथ ही सहयोगी दलों की आशंकाओं को भी दूर किया है। लोजपा (रामविलास) के नेता चिराग पासवान ने शनिवार को गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। इस बीच शाह ने रविवार का अपना तेलंगाना दौरा रद्द कर दिया है। इससे इस दिन बड़ा फैसला होने की संभावना प्रबल हो गई है।

बिहार में भाजपा और जेडीयू के बीच तालमेल की पूरी तैयारी हो गई है। रविवार को इस बारे में पटना में भावी रणनीति पर अमल किया जाएगा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के भी रविवार को पटना जाने की संभावना है। वह प्रमुख नेताओं और जिलाध्यक्षों के साथ बैठक में हिस्सा लेंगे और भावी रणनीति को अंतिम रूप देंगे। इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने अपना रविवार का तेलंगाना दौरा रद्द कर दिया है। बिहार में सरकार गठन का रास्ता साफ होने पर शाह के वहां जाने की भी संभावना है।

स्थिति स्पष्ट होने पर चिराग अपना रुख तय करेंगे
इस बीच शनिवार दोपहर में लोजपा (रामविलास) के नेता चिराग पासवान ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। लगभग आधे घंटे की मुलाकात में पासवान ने अपनी पार्टी की चिंताओं से दोनों नेताओं को अवगत कराया। बैठक के बाद चिराग ने कहा कि उन्हें आश्वासन दिया गया है। उन्होंने कहा कि वह इस मामले पर अपनी पार्टी के रुख को तय करने से पहले इस बात का इंतजार करेंगे कि जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल होते हैं या नहीं। 

चिराग ने कहा कि बिहार के मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर हमारी चिंताएं हैं। उन्होंने बैठक में इसे दृढ़ता से उठाया और कई मुद्दों पर आश्वासन प्राप्त किया। आने वाले दिनों में स्थिति स्पष्ट होने पर उनकी पार्टी अपना रुख तय करेगी। उन्होंने कहा कि वह हाल के दिनों तक भाजपा नेताओं के संपर्क में थे और उन्हें पता चला कि इन अटकलों में कुछ सच्चाई है। दरअसल, भाजपा के सहयोगियों को आशंका है कि नीतीश कुमार की एनडीए में मौजूदगी से चुनाव में उनके हिस्से की सीट संख्या में कमी हो सकती है।

महागठबंधन की सरकार गिरने के कगार पर : केसी त्यागी
इस बीच जेडीयू के वरिष्ठ नेता एवं मुख्य प्रवक्ता केसी त्यागी ने शनिवार को स्पष्ट किया कि बिहार में महागठबंधन की सरकार गिरने की कगार पर है। उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व के एक धड़े पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बार-बार अपमान करने का आरोप लगाया। त्यागी ने कहा कि विपक्षी इंडिया गठबंधन के भी टूटने के आसार हैं। पंजाब, पश्चिम बंगाल और बिहार में इंडिया में शामिल दलों का गठबंधन लगभग खत्म हो चुका है। जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार जिस लक्ष्य और इरादे के साथ गैर कांग्रेसी दलों को कांग्रेस के साथ लाने में सफल रहे थे, उसका अब कोई औचित्य नहीं रह गया है। उन्होंने कहा कि नीतीश को कभी भी गठबंधन में पद की कोई लालसा नहीं रही, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व के एक धड़े ने बार-बार उनका अपमान किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें