Bilkis Bano case: Supreme Court refuses to grant stay on the conviction of IPS officer R S Bhagora - बिलकिस बानो: SC ने IPS अधिकारी की दोषसिद्धि पर रोक लगाने से किया इनकार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिलकिस बानो: SC ने IPS अधिकारी की दोषसिद्धि पर रोक लगाने से किया इनकार

Bilkis Bano

सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 2002 के सनसनीखेज बिलकिस बानो मामले में एक आईपीएस अधिकारी की दोषसिद्धि पर रोक लगाने से मंगलवार को इनकार कर दिया।

न्यायमूर्ति ए के सिकरी और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की अवकाशकालीन पीठ ने कहा कि इस मामले की सुनवाई करने की कोई तात्कालिकता नहीं है क्योंकि दोषी अधिकारी पहले ही सजा काट चुका है। पीठ ने आईपीएस अधिकारी की याचिका को जुलाई के दूसरे सप्ताह के लिए सूचीबद्ध कर दिया।

गुजरात में सेवाएं दे रहे आईपीएस अधिकारी आर एस भगोरा और चार अन्य पुलिसकर्मियों को निचली अदालत ने दोषमुक्त करार दिया था लेकिन हाल में बंबई हाईकोर्ट ने उन्हें दोषी करार दिया था।

भगोरा की तरफ से पेश हुए वकील ने कहा कि यदि दोषसिद्धि पर रोक नहीं लगाई जाती है तो सेवा के नियमानुसार उन्हें सेवा से निलंबित कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अदालत को दोषसिद्धि पर रोक लगानी चाहिए।

बंबई हाईकोर्ट ने चार मई को निचली अदालत के आदेश को पलट दिया था। निचली अदालत ने बिलकिस बानो सामूहिक बलात्कार मामले में भगोरा एवं चार अन्य को दोषमुक्त करार दिया था और 11 लोगों (एक दोषी की मौत हो चुकी है) को दोषी करार दिया था। हाईकोर्ट ने पांच पुलिसकर्मियों के साथ दो चिकित्सकों को भी दोषी करार दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bilkis Bano case: Supreme Court refuses to grant stay on the conviction of IPS officer R S Bhagora