ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशअपहरण मामले में HD रेवन्ना को बड़ी राहत, कोर्ट ने दी सशर्त जमानत 

अपहरण मामले में HD रेवन्ना को बड़ी राहत, कोर्ट ने दी सशर्त जमानत 

Karnataka News: जेडीएस नेता एचडी रेवन्ना को अदालत से बड़ी राहत मिली है। उन्हें अपहरण मामले में सशर्त जमानत मिल गई है। निचली अदालत ने उन्हें 5 लाख रुपये के बॉन्ड पर जमानत दी है।

अपहरण मामले में HD रेवन्ना को बड़ी राहत, कोर्ट ने दी सशर्त जमानत 
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 13 May 2024 07:19 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा के बेटे और जेडीएस विधायक एचडी रेवन्ना को अदालत से बड़ी राहत मिली है। उन्हें अपहरण मामले में सशर्त जमानत मिल गई है। निचली अदालत ने जेडीएस नेता को 5 लाख रुपये के बॉन्ड पर जमानत दी है। कोर्ट में उन्हें दो निजी जमानतदार भी पेश करना पड़ा। उनके सांसद बेटे प्रज्वल रेवन्ना लीक हुए अश्लील वीडियो से जुड़े कर्नाटक सेक्स स्कैंडल मामले में आरोपी हैं।

एचडी रेवन्ना को विशेष जांच दल (SIT) ने 4 मई को गिरफ्तार किया था। उसके बाद तीन दिनों तक रेवन्ना SIT की हिरासत में थे।  आरोप है कि उन्होंने कथित तौर पर अपने बेटे प्रज्वल रेवन्ना सहित एक यौन उत्पीड़न पीड़िता के अपहरण में भूमिका निभाई थी।

बता दें कि प्रज्वल रेवन्ना को जेडीएस से निलंबित कर दिया गया है। कर्नाटक में एक महिला ने प्रज्वल रेवन्ना और उनके पिता एचडी रेवन्ना के खिलाफ यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं। प्राप्त रिपोर्टो के अनुसार अज्ञात महिला ने दावा किया कि हासन से सांसद प्रज्वल रेवन्ना ने चार से पांच साल पहले बेंगलुरु में अपने आवास पर उसकी मां के साथ बलात्कार किया था। उन्होंने SIT को घटनाओं का व्यापक विवरण दिया है। इसके अलावा उसने दावा किया कि उसे 2020 और 2021 में वीडियो कॉल के दौरान कपड़े उतारने के लिए मजबूर किया गया था। 

महिला ने कहा, “वह मुझे फोन करता था और अपने कपड़े उतारने के लिए कहता था। वह मेरी मां के मोबाइल पर फोन करता था और मुझे वीडियो कॉल का जवाब देने के लिए मजबूर करता था। जब मैंने इनकार कर दिया तो उसने मुझे और मेरी मां को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी।”

महिला ने दावा किया कि घटनाओं के बारे में पता चलने पर उसके परिवार ने उसका समर्थन किया जिसके बाद उसने औपचारिक शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने प्रज्वल और एचडी रेवन्ना पर अपनी मां के साथ बलात्कार और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया और कहा कि सांसद ने डराने-धमकाने की रणनीति अपनाई और उनके पिता के रोजगार को खतरे में डालने और हिंसा करने की धमकी दी। उन्होंने रेवन्ना निवास पर कार्यरत महिला घरेलू कामगारों को निशाना बनाकर कथित उत्पीड़न की घटनाओं का भी खुलासा किया।

सांसद प्रज्वल और उनके पिता यौन शोषण और अवैध रिकॉर्डिंग से जुड़े कई आरोपों में फंसे हुए हैं। कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार को मामले की एसआईटी जांच शुरू की है। आज तक, तीन प्राथमिकी दर्ज की गई हैं, जिनमें बलात्कार से लेकर अपहरण तक के आरोप शामिल हैं।