DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत ने PAK को लिया आड़े हाथों, कहा- मानवाधिकार के नाम पर कर रहा स्वांग

                                                                                                       ani

भारत ने गुरुवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) में कश्मीर मुद्दे के ध्रुवीकरण और राजनीतिकरण का पाकिस्तान का प्रयास खारिज हो गया है। आतंकियों का पनाहगाह पाकिस्तान मानवाधिकार के नाम पर स्वांग कर रहा है, लेकिन दुनिया उसकी हकीकत समझ चुकी है। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, 'पाकिस्तान' को यह समझ लेना चाहिए कि चार-पांच बार झूठ दोहराने से कोई बात सच नहीं हो जाती। विश्व समुदाय आतंकवादी ढांचे को समर्थन देने, उसका पोषण करने और बढ़ावा देने में पाकिस्तान की भूमिका से अवगत है। यही कारण है कि यूएनएचआरसी में कश्मीर मुद्दे के ध्रुवीकरण और राजनीतिकरण का पाकिस्तान का प्रयास खारिज हो गया है।'

ये भी पढ़ें: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह बोले, इन 5 कदमों से दुरुस्त होगी अर्थव्यवस्था

कश्मीर मुद्दे पर यूएनएचआरसी में 58 देशों से समर्थन मिलने के इस्लामाबाद के दावे पर कुमार ने कहा कि पाकिस्तान से उन देशों का नाम पूछना चाहिए। यूएनएचआरसी में भारत और पाकिस्तान समेत 47 देश हैं। ऐसे में समर्थन देने वाले देशों के बारे में पाकिस्तान से पूछना चाहिए।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब दो दिन पहले ही यूएनएचआरसी में कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच वाकयुद्ध देखने को मिला था। भारत ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के फैसले को अपना संप्रभु अधिकार बताया था। वहीं, पाकिस्तान ने क्षेत्र में मानवाधिकार उल्लंघन की जांच कराने की मांग की थी।

कुमार ने कहा, 'पाकिस्तान जो आतंकवादियों को पनाह देता है और आतंकवाद का केंद्र है, वैश्विक समुदाय की ओर से मानवाधिकारों पर बोलने का स्वांग कर रहा है। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। संदेशवाहक की विश्वसनीयता काफी संदिग्ध है। यह अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पता है।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bharat ka pakistan par nishana kaha manavadhikar ke naam par kar rha swang