ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशबारिश के लिए हो जाइए तैयार! इन राज्यों की ओर बढ़ा मॉनसून, गर्मी से राहत जल्द

बारिश के लिए हो जाइए तैयार! इन राज्यों की ओर बढ़ा मॉनसून, गर्मी से राहत जल्द

Barish Kab Hogi: बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय, पश्चिम में महाराष्ट्र और गोवा के कुछ हिस्सों, दक्षिण में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु तथा पूर्वी मध्य प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश दर्ज की गई।

बारिश के लिए हो जाइए तैयार! इन राज्यों की ओर बढ़ा मॉनसून, गर्मी से राहत जल्द
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 12 Jun 2024 12:46 AM
ऐप पर पढ़ें

Barish Kab Hogi IMD Monsoon Rain Alert in UP Bihar India: भीषण गर्मी से जूझ रहे उत्तर भारत के लिए अब राहत मिलने की उम्मीद है। देश में मॉनसून आगे बढ़ चुका है और अब गुजरात, तेलंगाना और महाराष्ट्र सहित लगभग सभी क्षेत्रों को कवर कर चुका है। पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर भारत के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश दर्ज की गई। बारिश के कारण अधिकांश क्षेत्रों में तापमान में गिरावट आ रही है। हालांकि चंडीगढ़ और पंजाब जैसे उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में लू का प्रकोप जारी है। उत्तर भारत के अधिकांश हिस्सों में मंगलवार को भीषण गर्मी का दौर जारी रहा और तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया। दिल्ली के नरेला और उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में अधिकतम तापमान 47.1 डिग्री सेल्सियस रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, दिल्ली में भीषण गर्मी का दौर जारी है और मंगलवार को शहर का अधिकतम तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने से देश भर में बारिश

पूर्व में पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय, पश्चिम में महाराष्ट्र और गोवा के कुछ हिस्सों, दक्षिण में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु तथा पूर्वी मध्य प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश दर्ज की गई है। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के क्षेत्र में आगे बढ़ने और पूर्वोत्तर असम पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनने के कारण झारखंड, ओडिशा, बिहार, छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों में बारिश की संभावना है और अगले सात दिनों में नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा सहित पूर्वोत्तर भारत के अन्य राज्यों में भी बारिश की संभावना है।

सप्ताह के लिए मौसम का पूर्वानुमान

अगले 24 घंटों के दौरान महाराष्ट्र में अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है, जबकि तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, रायलसीमा और तमिलनाडु और असम और मेघालय सहित पूर्व के अन्य राज्यों में गरज के साथ बारिश होने का अनुमान है।

कुछ इलाकों में लू का प्रकोप जारी है

पश्चिम बंगाल के गंगा तटीय इलाकों, उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली और झारखंड के कुछ इलाकों में लू (हीटवेव) का प्रकोप जारी है। इन इलाकों में और उत्तराखंड, चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा, ओडिशा, राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में भी लू का प्रकोप जारी रहने की संभावना है। आईएमडी के मुताबिक दिल्ली के अन्य मौसम केंद्रों जैसे नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि आया नगर में 44.8 डिग्री सेल्सियस, रिज में 45 डिग्री सेल्सियस और पालम में 44.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार के लिए मौसम विभाग ने 'ऑरेंज' अलर्ट जारी किया था।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में राज्य में सबसे अधिक 47.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वाराणसी में अधिकतम तापमान 45.3 डिग्री, बागपत और फुरसतगंज में 45.2 डिग्री सेल्सियस, फतेहपुर में 45 डिग्री और राज्य की राजधानी लखनऊ में अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस बीच, आगरा में हल्की बारिश हुई। राजस्थान के कई स्थानों पर अधिकतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की वृद्धि के साथ गर्मी का प्रकोप जारी रहा। मंगलवार को चुरू 45.6 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा। जयपुर मौसम केन्द्र के एक अधिकारी ने बताया कि चूरू में मंगलवार को अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 45.1 डिग्री, फतेहपुर और बीकानेर में 44.8 डिग्री, पिलानी में 44.7 डिग्री, संगरिया में 44.3 डिग्री, बाड़मेर में 44 डिग्री, जयपुर, अलवर एवं जैसलमेर में 43.5 डिग्री तापमान तथ जोधपुर और जालौर में 42.8 डिग्री दर्ज किया गया।

दक्षिण पश्चिम मानसून उत्तरी अरब सागर, महाराष्ट्र और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ा

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून उत्तरी अरब सागर, महाराष्ट्र और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ गया है। मौसम विभाग के अनुसार,तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में अगले 48 घंटों के दौरान दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं। इसके प्रभाव से अगले 24 घंटों के दौरान तेलंगाना के आदिलाबाद, निर्मल, रंगारेड्डी, विकाराबाद, संगारेड्डी, मेडक, कामारेड्डी, महबूबनगर, नागरकुरनूल, वानापर्थी, नारायणपेट और जोगुलम्बा गडवाल जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होने का अनुमान है।

राज्य के निज़ामाबाद, राजन्ना सिरसिल्ला, करीमनगर, जयशंकर भूपालपल्ली, मुलुगु, भद्राद्री कोठागुडेम, महबुबाबाद, वारंगल, हनमकोंडा, सिद्दीपेट, रंगारेड्डी, मेडचल मल्काजगिरी, विकाराबाद, संगारेड्डी, मेडक और कामारेड्डी जिलों में भी बुधवार को यही स्थिति रहने के आसार हैं। तेलंगाना में अलग-अलग स्थानों पर अगले तीन दिन के दौरान बिजली चमकने और 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से तेज़ हवाओं के साथ बारिश होने की का अनुमान है। राज्य में कुछ स्थानों पर अगले सात दिन के दौरान हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान लगाया गया है। तेलंगाना में कुछ स्थानों पर पिछले 24 घंटों के दौरान बारिश हुई। राज्य के आदिलाबाद में सोमवार को सबसे अधिक अधिकतम तापमान 40.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
(इनपुट एजेंसी)