DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्ता संग्राम: भाजपा ने हर राज्य के लिए बनाई अलग प्रचार रणनीति

bjp photo-ht

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा अलग अलग चुनावी रणनीति पर काम कर रही है। पार्टी के केंद्रीय प्रचारकों की टोली अपने चुनाव अभियान में इस रणनीति के मुताबिक मुद्दों को उठाएगी। राजस्थान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्र सरकार की उपलब्धियों पर जोर रहेगा, तो मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में राज्य सरकारों की पंद्रह साल की उपलब्धियों को सामने रखा जाएगा। मिजोरम में बदलाव के लिए और तेलंगाना में केंद्र के साथ मिलकर विकास के मुद्दे रहेंगे।
 
दीपावली के बाद भाजपा का सघन चुनाव प्रचार अभियान शुरू हो जाएगा। सबसे पहले छत्तीसगढ़ में भाजपा के प्रचारकों की फौज उतरेगी और उसके बाद मध्य प्रदेश, मिजोरम, तेलंगाना व राजस्थान में भाजपा के दो दर्जन से ज्यादा केंद्रीय नेता प्रचार करेंगे। भाजपा नेतृत्व राजस्थान में सत्ता विरोधी माहौल के ज्यादा होने के नाते वहां पर प्रदेश के बजाए केंद सरकार की उपलब्धियों को सामने रखेगा। प्रदेश स्तर पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे व अन्य नेता तो राज्य सरकार की उपलब्धियों को सामने रखेंगे, लेकिन केंद्रीय प्रचारक प्रधानमंत्री मोदी के इर्द गिर्द माहौल बनाएंगे।

मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में भाजपा बीते पंद्रह साल से सत्ता में हैं, ऐसे में राज्य सरकारों की उपलब्धियां काफी ज्यादा है। साथ ही वहां के मुख्यमंत्रियों को लेकर भी जनता में नाराजगी नहीं है। ऐसे में वहां राज्य सरकार की उपलब्धियों के साथ केंद्र में भी भाजपा सरकार होने से विकास में और तेजी आने को मुद्दा बनाया जाएगा। इन राज्यों में भाजपा नेता मोदी सरकार के समय तेजी से हुए विकास के साथ उसके पहले केंद्र में कांग्रेस सरकार के समय आने वाली दिक्कतों को भी सामने रखेंगे।

गुजरात के सीएम बोले-अहमदाबाद का नाम आम चुनाव से पहले बदला जा सकता है

तेलंगाना में केंद्र का साथ व मिजोरम में बदलाव होगा मुद्दा
सूत्रों के अनुसार सभी नेताओं को प्रचार अभियान पर जाने से पहले उन राज्यों के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी और बताया जाएगा कि कहां पर कैसा माहौल है। किस तरह की रणनीति अपनानी है। तेलंगाना में भाजपा अपनी ताकत बढ़ाने की कोशिश कर रही है। वहां पर पार्टी नए राज्य के तेजी से विकास के लिए केंद्र व राज्य में एक ही दल की सरकार होने पर जोर देगी।

पूर्वोत्तर में कांग्रेस के एक मात्र राज्य मिजोरम को भी भाजपा ने फतह करने की तैयारी कर ली है। पार्टी वहां पर अन्य पूर्वोत्तर राज्यों की तरह काम कर रही है और कांग्रेस में ही सेंध लगा रही है। पूर्वोत्तर के मिजाज में भी केंद्रीय सत्ता वाली पार्टी का साथ यहां के राज्यों को रास आता है।

उपचुनाव में बीजेपी की हार कांग्रेस के लिए अच्छे दिन के संकेत-शिवसेना 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:assembly election in rajasthan madhya pradesh chattisgarh mizoram telangana BJP separate campaign strategy for every state