ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशअसम: कांग्रेस ने हेमंत सरकार को समर्थन देने वाले विधायक शशिकांत दास को किया निलंबित

असम: कांग्रेस ने हेमंत सरकार को समर्थन देने वाले विधायक शशिकांत दास को किया निलंबित

असम कांग्रेस ने राज्य की हेमंत सरकार को समर्थन की घोषणा करने वाले विधायक शशिकांत दास को पार्टी से निलंबित कर दिया है। कांग्रेस ने दास को यह कहते हुए निलंबित किया है कि वह पार्टी विरोधी गतिविधियों में...

असम: कांग्रेस ने हेमंत सरकार को समर्थन देने वाले विधायक शशिकांत दास को किया निलंबित
Ashutosh Rayउत्पल पराशर,गुवाहाटीFri, 31 Dec 2021 10:38 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

असम कांग्रेस ने राज्य की हेमंत सरकार को समर्थन की घोषणा करने वाले विधायक शशिकांत दास को पार्टी से निलंबित कर दिया है। कांग्रेस ने दास को यह कहते हुए निलंबित किया है कि वह पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त हैं। दास ने 20 दिसंबर को घोषणा की थी वह हेमंत बिस्व सरमा सरकार में शामिल हो गए हैं, लेकिन कांग्रेस में बने रहेंगे।

विधानसभा परिसर में मुख्यमंत्री के चैंबर से टिप्पणी करने के तुरंत बाद कांग्रेस ने राहा से पहली बार विधायक बने दास को कारण बताओ नोटिस दिया था और एक दिन के भीतर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा था। कांग्रेस ने एक बयान में कहा कि 'पार्टी ने अनुशासन का बार-बार उल्लंघन करने और पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के लिए उन्हें अनुशासनात्मक कार्यवाही लंबित रहने तक तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

दशकों से कांग्रेस में रहे दास ने कहा था कि वह सरमा को कई सालों से जानते हैं और असम में सभी समुदायों के विकास के लिए सरकार द्वारा शुरू किए गए सक्रिय कदमों से प्रभावित हैं। राज्य की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने अक्टूबर में एक अन्य विधायक शर्मन अली अहमद को 'पार्टी अनुशासन का उल्लंघन करने' के लिए निलंबित कर दिया था। 

दास की ओर से समर्थन की घोषणा का स्वागत करते हुए सरमा ने कहा था कि विपक्षी खेमे में कई और विधायक हैं जो पिछले महीनों में राज्य सरकार द्वारा किए गए कार्यों के कारण सत्तारूढ़ दल में शामिल होने के इच्छुक हैं। इस साल की शुरुआत में, विधानसभा चुनावों के कुछ महीनों के भीतर, मरियानी से कांग्रेस विधायक रूपज्योति कुर्मी और थौरा से सुशांत बोरगोहेन ने अपनी सीटों से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं। भवानीपुर से ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के विधायक फणीधर तालुकदार ने भी अपनी पार्टी छोड़ दी थी और सत्तारूढ़ दल में शामिल हो गए थे। तीनों विधायक नवंबर में हुए उपचुनाव में बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़े और जीत भी हासिल की।

वर्तमान में, 126 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के विधायकों की संख्या 62 है, जबकि उसकी सहयोगी अगप के नौ सदस्य हैं और यूपीपीएल के सात विधायक हैं। विपक्ष में कांग्रेस के 27, एआईयूडीएफ के 15, बीपीएफ के तीन और माकपा का एक विधायक है। एक निर्दलीय विधायक भी है।

epaper