DA Image
8 मई, 2021|1:40|IST

अगली स्टोरी

असदुद्दीन ओवैसी ने मथुरा ईदगाह के खिलाफ RSS पर साधा निशाना

aimim chief asaduddin owaisi  file pic

उत्तर प्रदेश के मथुरा की एक अदालत द्वारा वहां एक ईदगाह के खिलाफ दलील देने के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर निशाना साधते हुए ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को कहा कि लोगों को संघ के डिजाइनों के प्रति सचेत रहना चाहिए। ट्विटर पर ओवैसी ने कहा कि बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि के फैसले ने 'संघ परिवार' के संकल्प को मजबूत किया है।

ओवैसी ने हिंदी में ट्वीट किया "जिसका डर था वह सच हो गया है। बाबरी मस्जिद से संबंधित फैसले ने 'संघ परिवार' के संकल्प को मजबूत किया है। याद रखें, अगर हम अभी भी नहीं जागे तो संघ इस पर एक और हिंसक अभियान शुरू कर सकता है और कांग्रेस भी अभियान में शामिल हो सकती है”।

उन्होंने कहा कि मथुरा की जिला अदालत ने मथुरा की ईदगाह पर एक याचिका दाखिल की थी और कहा था कि लोगों को आरएसएस के डिजाइनों के प्रति सचेत रहना चाहिए। इससे पहले, ओवैसी ने कहा था कि श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ और शाही ईदगाह ट्रस्ट के बीच विवाद को 1968 में सुलझा लिया गया था और विवाद के पुनरुद्धार पर सवाल उठाया गया था।

ओवैसी ने पहले कहा था "पूजा का स्थान अधिनियम 1991 पूजा के स्थान को परिवर्तित करने से मना करता है। गृह मंत्रालय को इस अधिनियम का प्रशासन सौंपा गया है, अदालत में इसकी प्रतिक्रिया क्या होगी? शाही ईदगाह ट्रस्ट और श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ ने अक्टूबर 1968 में इस विवाद को हल किया। अब इसे पुनर्जीवित क्यों करें?”।
मथुरा की एक अदालत ने कृष्ण जन्मभूमि से सटे ईदगाह को हटाने की मांग करने वाली याचिका स्वीकार करने के एक दिन बाद यह फैसला सुनाया और 18 नवंबर को इस मामले की सुनवाई करने के लिए कहा गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Asaduddin Owaisi targets RSS against Mathura Idgah