DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुलभूषण जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले के बाद अरुण जेटली की पहली प्रतिक्रिया

arun jaitley

कुलभूषण जाधव के मामले में अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) के फैसले को भारत के लिए 'बड़ी जीत बताते हुए भाजपा नेता अरुण जेटली ने बृहस्पतिवार को कहा कि पाकिस्तान को कानून व्यवस्था का पालन करने का एक मौका दिया गया है और अब पूरी दुनिया देख रही है कि वह किस दिशा में कदम बढ़ाता है। पूर्व वित्त मंत्री ने फैसले के बाद पाकिस्तान द्वारा इसे अपनी जीत बताने के दावे पर चुटकी लेते हुए इसे हास्यास्पद बताया।

यह भी पढ़ें- कुलभूषण पर ICJ के फैसले को पाक ने बताया अपनी जीत, भारत ने दिया ये जवाब

अरुण जेटली ने ब्लॉग में लिखा, ''आईसीजे ने पाकिस्तान को कानून व्यवस्था का पालन करने का और उसकी प्रक्रियाओं में सुधार करने का अवसर दिया है। क्या पाकिस्तान इस मौके का इस्तेमाल करेगा या इसे गंवा देगा? पाकिस्तान पर अब पूरी दुनिया की नजर है कि वह किस दिशा में कदम बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि आईसीजे का फैसला भारत के लिए बड़ी जीत है और पाकिस्तान आईसीजे के समक्ष अंतत: हार गया है। 

जेटली ने कहा कि पड़ोसी देश की हास्यास्पद प्रक्रियाएं उजागर हो गयी हैं जिनके माध्यम से बेगुनाहों को दोषी ठहराया जाता है। उन्होंने कहा कि आईसीजे के फैसले को सरसरी तौर पर पढ़ें तो दिखता है कि लगभग सभी मोर्चों पर भारत जीता है।

यह भी पढ़ें- जाधव केस में ICJ का फैसला अंतिम, नहीं हो सकती कोई अपील- विदेश मंत्रालय

आईसीजे ने बुधवार को व्यवस्था दी थी कि पाकिस्तान को जाधव को सुनाई गयी फांसी की सजा पर फिर से विचार करना चाहिए और उसे राजनयिक पहुंच प्रदान की जानी चाहिए। जेटली ने कहा कि फैसले ने अनिवार्य निर्देशों के माध्यम से पाकिस्तान पर भारी जिम्मेदारी डाली है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सैन्य अदालतों की वैधता पर आईसीजे ने कोई राय नहीं रखी क्योंकि उसका न्यायक्षेत्र सीमित है। उन्होंने कहा, ''इस तरह यह सवाल भविष्य में निर्णय के लिए एक उचित मंच पर आने के लिए खुला रहेगा।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Arun Jaitley says Pakistan under global gaze in Kulbhushan Jadhav case