DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोहित शेखर की मौत की वजह बनी एक वीडियो कॉल, 80 मिनट में हुआ सबकुछ

last week  after news reports that there was trouble in the marriage that may have triggered the mur

एक वीडियो कॉल से शुरू हुई लड़ाई ही रोहित शेखर की मौत का कारण बनी। यह चौंकाने वाला तथ्य क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया है। क्राइम ब्रांच की मानें तो जब रोहित उत्तराखंड से कार से दिल्ली लौट रहा था तो उस वक्त डिफेंस कॉलोनी स्थित घर में मौजूद उसकी पत्नी अपूर्वा शुक्ला ने उसे वीडियो कॉल किया था। यह वीडियो कॉल ही अंतत: उसकी जान का कारण बना। 

दरअसल, रोहित उत्तराखंड से जब लौट रहा था तो कार को उसका ड्राइवर अखिलेश चला रहा था। उसके साथ अगली सीट पर गोलू बैठा था, जबकि पीछे रोहित, उसकी महिला रिश्तेदार और एनडी तिवारी के समय से उनका काम देखने वाला निगम नाम का एक शख्स बैठे थे। घटना वाली शाम जब अपूर्वा ने वीडियो कॉल किया तो उस वक्त उसे कार में वह महिला भी बैठी दिखाई दी। इसके बाद ही वह भड़क गई थी। दरअसल, उस महिला रिश्तेदार वह शुरू से ही खफा रहती थी। इतना ही नहीं, उस महिला के साथ ही रोहित शराब भी पी रहा था। इस बात ने उसे और भी भड़का दिया। हालांकि, वीडियो कॉल के दौरान तो उसने रोहित से इस बारे में कुछ ज्यादा नहीं कहा, लेकिन वह गुस्से में उसने पूरी बात किए बगैर ही फोन काट दिया था। 

चुनावी गणित: गैर हिंदी राज्यों में बढ़ेगा भाजपा का मत प्रतिशत?

इस बीच रात करीब 10 बजे रोहित शेखर सहित कार में सवार महिला समेत अन्य चारों और दूसरी कार मे सवार रोहित की मां उज्जवला भी पहुंची। इस दौरान करीब आधे घंटे तक सभी डिफेंस कॉलोनी के घर में रहे। वह महिला, उसका पति और अन्य सदस्य उज्जवला के साथ तिलक लेन स्थित घर में चले गए, जबकि रोहित अपने कमरे में चला गया। .

झगड़ा के बाद रोहित का गला घोट दिया
रोहित चूंकि रास्ते में शराब पीते हुए दिल्ली पहुंचा था। इस कारण वह बेहद नशे में था। इस बीच करीब सवा 12 बजे अपूर्वा उसके कमरे में गई तो वह नशे में लेटा हुआ था। अपूर्वा ने उससे पूछा कि वह कार में महिला के साथ शराब पी रहा था तो क्या वह भी शराब पी रही थी। इस पर रोहित ने जवाब दिया कि हां वह भी मेरे साथ शराब पी रही थी। हमदोनों एक ही गिलास में शराब पी रहे थे। शराब अगली सीट पर बैठा गोलू बना रहा था और उसी गिलास से मैं और वह महिला बारी-बारी से शराब पी रहे थे। इस बात को लेकर अपूर्वा एकदम से भड़क गई। इसके बाद वह रोहित से झगड़ा करते हुए इतने गुस्से में आ गई कि उसने रोहित का मुंह और नाक दबा दिया। फिर उसकी गला घोट कर हत्या कर दी।.

80 मिनट में सब कुछ हुआ
रोहित के कमरे में जाने और उससे झगड़ा करने से लेकर उसकी हत्या तक सबकुछ 80 मिनट में हुआ। हत्या रात के 1 बजे के आसपास हो गई थी। लेकिन, उसे इन्सोमेनिया था और अक्सर वह देर रात तक जगे रहते थे। इस कारण देर तक सोते रहने की उसे आदत थी। इसी का फायदा उठाते हुए अपूर्वा ने मां उज्ज्वला के पूछने पर यह कह दिया कि वह सो रहे हैं। इसके चलते लोगों को शक नहीं हुआ। 

पीएम मोदी का आज रोड शो, कल करेंगे नामांकन, जानिये कौन-कौन आ रहा काशी

मायके वालों के लिए अलग घर की मांग
अपूर्वा और रोहित की पहली मुलाकात वर्ष 2017 में हुई थी। दोनों एक मैट्रीमोनियल साइट के जरिए पहली बार लखनऊ में मिले थे। धीरे-धीरे दोनों में नजदीकी बढ़ी और इन्होंने शादी कर ली। मगर शादी के कुछ दिनों बाद से ही अपूर्वा का अपने मायके वालों के लिए रोहित से एक अलग मकान बनाने की मांग कर रही थी। ऐसा नहीं करने पर वह उससे झगड़ रही थी। हत्या वाली रात भी अपूर्वा और रोहित के बीच इस मामले को लेकर कहासुनी हुई थी। 

प्रॉपर्टी में नाम नहीं होने से थी परेशान अपूर्वा
रोहित की मां उज्ज्वला ने दो दिन पहले ही कहा था कि अपूर्वा की नजर प्रॉपर्टी पर थी। यह बात पुलिस की जांच में भी सामने आई। दरअसल, क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी राजीव रंजन ने कहा कि चूंकि मां ने बेटो के नाम 60/40 की हिस्सेदारी में प्रॉपर्टी कर दी थी और वसीहत में यह साफ कर दिया था कि अगर एक लड़के की मौत होती है तो उसकी जगह दूसरे को हिस्सेदारी मिल जाएगी। इसमें अपूर्वा का कहीं भी जिक्र नहीं था। इस बात को लेकर अपूर्वा परेशान थी। इतना ही नहीं, रोहित के भाई जिसके हिस्से में 40 फीसदी की हिस्सेदारी थी। उसने शादी नहीं की थी और उसने यह ऐलान भी कर दिया था कि वह अपना हिस्सा उस महिला रिश्तेदार के बेटे के नाम कर देगा। इसे लेकर अपूर्वा बार-बार रोहित व उसके रिश्ते को लेकर सवाल उठाती थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:apoorva and Rohit Shekhar fight on a video call wife murder hasband in 80 minutes