DA Image
24 फरवरी, 2020|7:38|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएए के खिलाफ कोर्ट जाने से पहले सोनिया गांधी से मिले अमरिंदर

सीएए के खिलाफ उच्चतम न्यायालय जाने से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। बैठक आधे घंटे से अधिक समय तक चली। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाने से पहले अपनी योजनाओं से सोनिया को अवगत कराया। इससे पहले केरल सरकार उच्चतम न्यायालय पहुंच चुकी है।

वकीलों ने संविधान की प्रस्तावना पढ़ी

सीएए के विरोध में वकीलों के एक समूह ने सोमवार को बम्बई उच्च न्यायालय के द्वार के बाहर संविधान की प्रस्तावना पढ़ी।  वरिष्ठ वकील नवरोज सीरवई, गायत्री सिंह और मिहिर देसाई सहित 50 से अधिक वकीलों इस मौके पर मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि कोई भी इस देश और इसके नागरिकों को धर्म के आधार पर बांट नहीं सकता। वकीलों ने कहा कि सीएए में इस्लाम को छोड़कर छह धार्मिक समुदायों के शरणार्थियों को नागरिकता प्रदान करने का प्रावधान किया गया है, जो संवैधानिक रूप से गलत है।

संसद में एक बार कोई कानून पास हो जाता है तो संवैधानिक तौर पर कोई भी राज्य इसे लागू करने से इनकार नहीं कर सकता और उसे करना भी नहीं चाहिए, लेकिन नागरिकता संधोधन कानून की वैधता की जांच होनी चाहिए।
भूपिंदर सिंह हुड्डा, पूर्व मुख्यमंत्री हरियाणा

मुझसे देशवासी होने का सबूत मांगने वालों से कहना चाहता हूं कि जब कुछ लोग अंग्रेजों से माफी मांग रहे थे तब मेरे पूर्वज फांसी के तख्त को चूमकर इंकलाब जिंदाबाद का नारा लगा रहे थे।
जितेंद्र अव्हाड, मंत्री महाराष्ट्र 

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) में सरकार का उद्देश्य प्रत्येक परिवार की जाति या विचारधारा के बारे में सूचना प्राप्त करना है। यह सरकार का दुर्भावना से प्रेरित कदम है।
प्रकाश आंबेडकर, अध्यक्ष, वंचित बहुजन आघाडी 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:amrinder singh meet sonia gandhi before going court on caa