ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशचुनाव में 272 सीटें न मिलीं तो प्लान बी क्या है? अमित शाह ने बताया क्या सोचा है

चुनाव में 272 सीटें न मिलीं तो प्लान बी क्या है? अमित शाह ने बताया क्या सोचा है

लोकसभा चुनाव में यदि एनडीए की 272 सीटें नहीं आती हैं तो आपका प्लान बी क्या है। इस सवाल पर अमित शाह ने कहा कि प्लान बी तब बनाना पड़ता है। है, जब प्लान ए के सफल होने की 60 फीसदी से कम की संभावना हो।

चुनाव में 272 सीटें न मिलीं तो प्लान बी क्या है? अमित शाह ने बताया क्या सोचा है
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 17 May 2024 10:22 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के नतीजे 4 जून को आने वाले हैं। उससे पहले हर कोई कयास लगा रहा है कि किसे कितनी सीटें मिलने पर अगली सरकार की क्या संभावना होगी। इस पर अमित शाह से जब पूछा गया कि यदि एनडीए को 272 से कम सीटें मिलीं तो क्या होगा। क्या आपने कोई प्लान बी तैयार किया है? इस पर अमित शाह ने कहा कि मैं ऐसी कोई संभावना नहीं देखता। यदि एनडीए की 272 सीटें नहीं आती हैं तो आपका प्लान बी क्या है। अमित शाह ने कहा कि प्लान बी तब बनाना पड़ता है। है, जब प्लान ए के सफल होने की 60 फीसदी से कम की संभावना हो। अमित शाह ने कहा कि मैं मानता हूं कि मोदी जी प्रचंड बहुमत के साथ जीतकर आएंगे। 

अमित शाह ने ANI को दिए इंटरव्यू में कहा कि हर कोई चाहता है कि यह देश विकसित भारत बने और पूरी दुनिया में हमारा सम्मान हो। हर कोई मानता है कि 10 सालों में दुनिया में देश का सम्मान बढ़ा है। इस देश के 60 करोड़ लाभार्थी हैं, जो पीएम मोदी के साथ पूरी मजबूती के साथ खड़े हैं। इन लोगों का न कोई धर्म है और न जाति है, ना ही उम्र है। हमने 1 करोड़ 41 लाख महिलाओं को लखपति दीदी बनाया है। हमने देश के 4 करोड़ लाभार्थियों को आवास दिया है और 3 करोड़ देने वाले हैं। 32 करोड़ आयुष्मान कार्ड दिए हैं। 

होम मिनिस्टर अमित शाह ने तमाम स्कीमें गिनाते हुए कहा कि 14 करोड़ घरों तक नल से जल की सुविधा पहुंच गई है। हमने 12 करोड़ शौचालय दिए हैं और 14 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन मिले हैं। पीएम किसान योजना से 11 करोड़ किसानों को लाभ मिल रहा है। हर गरीब व्यक्ति को 5 किलो अनाज हर महीने मुफ्त दे रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि आजादी के 65 साल बाद ऐसा कोई पीएम आया, जिसने 60 करोड़ लोगों के लिए संवेदना दिखाई। इस दौरान अमित शाह ने खुद को राजनीति का चाणक्य मानने से भी इनकार कर दिया। 

केजरीवाल को देख लोगों को बड़ी बोतल नजर आएगी, शराब घोटाले पर शाह का तंज

सोशल मीडिया पर तीसरी बार सत्ता में आने पर आरक्षण हटाए जाने की अफवाहों को लेकर भी अमित शाह ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि हम लोग लाखों किलोमीटर का टूर करते हैं। हम सिर्फ सोशल मीडिया नहीं देखते। मैं दोहरा देता हूं कि भाजपा का इस देश में जब तक एक भी सांसद है, तब तक कोई एससी, एसटी और ओबीसी के आरक्षण को हटा नहीं सकता। नरेंद्र मोदी से बड़ा इन वर्गों का कोई हितैषी नहीं हो सकता।