DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाह की ममता को चुनौती- जय श्री राम उद्घोष के लिए मुझे गिरफ्तार करके दिखाएं

                                                                                                    pti file photo

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को सोमवार को चुनौती दी कि वह ''जय श्री राम के उद्घोष के लिए उन्हें गिरफ्तार करके दिखाएं। शाह ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो पश्चिम बंगाल में उन्हें रैलियां करने से रोक सकती हैं, लेकिन वह राज्य में भाजपा की विजय यात्रा नहीं रोक पाएंगी।

भाजपा अध्यक्ष ने जॉयनगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के तहत आने वाले कैनिंग में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि ममता ने ''सोनार बांग्ला (सोने का बंगाल) को कंगाल बांग्ला में बदल दिया है। शाह ने कहा कि यदि कोई 'जय श्री राम' का उद्घोष करता है तो ममता दी नाराज हो जाती हैं। मैं आज यहां जय श्री राम का उद्घोष कर रहा हूं। यदि आप (ममता) में हिम्मत है तो मुझे गिरफ्तार कीजिए। मैं कल कोलकाता में होऊंगा।

सोशल मीडिया पर हाल में एक वीडियो क्लिप वायरल हुई थी जिसमें ममता घाटाल लोकसभा सीट में 'जय श्री राम का उद्घोष करने वाले लोगों पर नाराज हो रही हैं। शाह ने जाधवपुर लोकसभा सीट के बरूईपुर में उनके हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति नहीं देने को लेकर तृणमूल सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ''ममता बनर्जी की सरकार स्पष्ट रूप से घबराई हुई है। वह मुझे रैलियां करने से रोकना चाहती हैं। क्या आप (ममता) इस तरह अपनी हार रोकना चाहती हैं?''

उन्होंने कहा, ''तृणमूल मुझे रैलियां संबोधित करने से रोक सकती है लेकिन वह पश्चिम बंगाल में भाजपा की विजय यात्रा नहीं रोक सकती।'' राज्य सरकार ने शाह का हेलीकॉप्टर उतरने और बरूईपुर में जनसभा को संबोधित करने की उन्हें अनुमति नहीं दी थी जिसके बाद शाह की जाधवपुर लोकसभा सीट में निर्धारित रैली रद्द कर दी गई।

शाह ने घुसपैठियों को ''दीमक'' करार दिया जो इस देश के संसाधनों को खा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी केंद्र में दूसरी बार सत्ता में आने के बाद इन घुसपैठियों को पश्चिम बंगाल से बाहर निकालेगी। उन्होंने कहा कि हम बंगाल का गौरव फिर से लौटाएंगे। ममता बनर्जी ने सोनार (स्वर्ण) बांग्ला को 'कंगाल बांग्ला में बदल दिया है। अपने वोट बैंक को बचाने के लिए घुसपैठियों का बचाव करने में उनकी रुचि है, लेकिन उनका वोट बैंक उन्हें निकट आती हार से बचा नहीं पाएगा।

विवादित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) का पुरजोर विरोध करने वाली ममता पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए शाह ने चुनाव में जीत के बाद इसे पूरे देश में लागू करने का संकल्प लिया। एनआरसी का उद्देश्य असली नागरिकों को घुसपैठियों से अलग करना है। उन्होंने कहा कि 23 मई के बाद, हम हिन्दू, सिख, बौद्ध और जैन समुदायों के अपने शरणार्थी भाइयों को नागरिकता देने के लिए नागरिकता (संशोधन) विधेयक लेकर आएंगे।

भाजपा नेता ने कहा कि मोदी देश के विकास के लिए काम में जुटे हुए हैं और विपक्षी दल अपने परिवारों के भविष्य को सुरक्षित करने में लगे हैं। शाह ने राज्य में कथित ''सिंडिकेट राज चलाने के लिए ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस, मुख्यमंत्री के भतीजे अभिषेक बनर्जी को लाभ पहुंचाना चाहती है। उन्होंने कहा कि पहले 'सिंडिकेट टैक्स' था, अब 'भतीजा टैक्स' ने इसकी जगह ले ली है। हमें बुआ-भतीजे की इस भ्रष्ट सरकार को बाहर करना होगा। हम इस भ्रष्ट शासन को हराएंगे।

शाह ने दोहराया कि ममता और अन्य विपक्षी नेता कश्मीर में पुलवामा हमले के बावजूद पाकिस्तान के साथ बातचीत के पक्ष में हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी राज्य में दुर्गा पूजा और सरस्वती पूजा समारोह में अड़चनें डालने का प्रयास कर रही हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री धर्म का इस्तेमाल राजनीतिक औजार के रूप में कर रही हैं।

बहन मीसा के लिए दूरी खत्म कर करीब आए तेजस्वी और तेजप्रताप

गिरिराज सिंह ने मुस्लिम समुदाय पर की थी टिप्पणी,चुनाव आयोग ने की निंदा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Amit Shah Challenge to Mamta Banerjee Arrest me for chanting Jai Shri Ram