DA Image
1 अप्रैल, 2020|3:01|IST

अगली स्टोरी

VIDEO: अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन से मांगी माफी, कहा- जब मैं जिंदगी और मौत से लड़ रहा हूं...

amitabh bachchan amar singh

समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह ने सदी के महानायक अमिताभ बच्चन और उनके परिवार के खिलाफ टिप्पणियों को लेकर ट्विटर पर माफी मांगी। अमर सिंह ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि इस स्टेज में जब जिंदगी और मौत से लड़ रहा हूं, मैं अमित जी और उनके परिवार से माफी मांगता हूं। 

अमर सिंह ने ट्वीट कर कहा, 'आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और आज ही के दिन में मुझे अमिताभ बच्चन जी का संदेश मिला। जीवन के इस पड़ाव पर जब मैं जीवन और मृत्यु की लड़ाई लड़ रहा हूं तो मुझे अमित जी और परिवार के खिलाफ अपनी टिप्पणी के लिए खेद है। ईश्वर सभी को आशीर्वाद दे।'

दरअसल, अमिताभ बच्च ने अमर सिंह के पिता की पुण्यतिथि के मौके पर उन्हें मैसेज भेजा, जिसके बाद अमर सिंह ने अपने बयानों को लेकर खेद प्रकट किया। बता दें कि किडनी की समस्या ग्रसित अमर सिंह फिलहाल सिंगापुर के अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। 

गौरतलब है कि एक समय में अमर सिंह और अमिताभ बच्चन गहरे दोस्त हुआ करते थे। मगर एक वक्त ऐसा भी आया कि दोनों के रिश्तों में खटास आ गई थी। यह खटास इस स्तर पर चला गया कि अमर सिंह सार्वजनिक तौर पर बच्चन और उनके परिवार को लेकर टिप्पणियां करने लगे। 

2017 में किया था चौंकाने वाला खुलासा:
एक समय बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन के करीबी दोस्त रहे अमर सिंह ने अमिताभ और जया बच्चन को लेकर चौंकाने वाले खुलासे किए थे। एक टीवी चैनल दिए इंटरव्यू के दौरान अमर सिंह ने कहा था, 'जब मैं अमिताभ बच्चन से मिला था, उससे पहले अमिताभ और जया अलग रह रहे थे। दोनों जनक और प्रतिक्षा बंगले में अलग-अलग रहते थे। लोग देश में हो रहे हर विवाद के लिए मुझे जिम्मेदार मानते हैं। मैं जया और ऐश्वर्या राय बच्चन वाले विवाद का भी जिम्मेदार नहीं हूं।'

उस वक्त अमर सिंह को समाजवादी पार्टी में चल रहे विवाद का जिम्मेदार बताया गया था। अपने पर लगाए गए आरोप को स्पष्ट करते हुए अमर सिंह ने कहा था कि मीडिया हर विवाद के लिए मुझे जिम्मेदार बताती है, फिर चाहे वो समाजवादी पार्टी का विवाद हो, अंबानी का हो या बच्चन परिवार का।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Amar Singh ends feud with Amitabh Bachchan says Regret my overreaction against him