DA Image
8 मार्च, 2021|2:41|IST

अगली स्टोरी

असदुद्दीन ओवैसी बोले- हैदराबाद नगर निगम चुनाव में नहीं थी BJP की कोई लहर, AIMIM का स्ट्राइक रेट सबसे अच्छा

asaduddin owaisi

हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी भले ही दूसरे स्थान पर रही, लेकिन भगवा पार्टी को इस चुनाव ने तेलंगाना में जश्न मनाने के लिए बड़ा मौका दिया है। इस चुनाव में सबसे ज्यादा नुकसान टीआरएस को हुआ है। पिछले चुनाव में 99 सीटों के साथ नगर निगम पर कब्जा करने वाली टीआरएस को इस चुनाव में काफी नुकसान हुआ है। उसके बाद अगर किसी को नुकसान हुआ है तो वह  ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (AIMIM) है। असदुद्दीन ओवौसी की पार्टी भले ही 44 सीटें जीतने में सफल रही, लेकिन बीजेपी का उससे आगे निकलना यह कई मायनों में AIMIM के लिए खतरे की घंटी है।

हालांकि AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी लोकतांत्रिक तरीके से भाजपा का मुकाबला करती रहेगी। इतना ही नहीं, उन्होंने इसे बीजेपी की लहर मानने से साफ इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि लहर कहां है? अगर लहर आई होती, तो बीजेपी महाराष्ट्र MLC चुनाव में नहीं हारती।

ओवैसी ने कहा कि बीजेपी ने कहा था कि वे पुराने शहर (हैदराबाद) में सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे। लेकिन वे मेरे क्षेत्र में कुछ नहीं कर सकते थे। हमने लोकतांत्रिक स्ट्राइक की है। हमने 51 सीटों पर चुनाव लड़ा और 44 में जीत हासिल की। ​​सोचिए क्या हुआ होता अगर AIMIM 80 सीटों पर चुनाव लड़ा होता। आपको बता दें कि 2016 ओवैसी की पार्टी 60 सीटों पर चुनाव लड़ी था और 44 पर जीत हासिल की थी।

ओवैसी ने कहा, "हमें भरोसा है कि तेलंगाना के लोग राज्य में बीजेपी को आगे बढ़ने से रोकेंगे। ओवैसी की पार्टी इस साल के चुनाव में  अपना दायरा बढ़ाना चाहती है, क्योंकि पार्टी ने हाल ही में बिहार में पांच विधानसभा सीटें जीती थीं। 

हैदराबाद नगर निगम चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद ओवैसी ने कहा, 'हमने हैदराबाद जीएचएमसी चुनाव में 44 सीटों पर जीत हासिल की है। मैंने सभी नवनिर्वाचित नगरसेवकों से बात की है और उन्हें कल से ही अपना काम शुरू करने के लिए कहा है।'

तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के बारे में बात करते हुए, ओवैसी ने कहा, “टीआरएस हमारे विपक्ष में है, लेकिन तेलंगाना में यह एक दुर्जेय राजनीतिक पार्टी है, इसे स्वीकार करना होगा। यह तेलंगाना की क्षेत्रीय भावना का प्रतिनिधित्व करता है। मुझे यकीन है कि के चंद्रशेखर राव इन चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे। मुझे यकीन है कि वह भाजपा के लिए एक बड़ी चुनौती होगी।”

 

आपको बता दें कि सत्तारूढ़ टीआरएस 150 वार्डों वाले जीएचएमसी चुनाव में 55 सीटों जीतने वाली एकल सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। 149 के परिणामों की घोषणा की गई क्योंकि उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार मतगणना को एक वार्ड में रोकना पड़ा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:AIMIM chief Asaduddin Owaisi reacts to Hyderabad civic poll results says No BJP storm sky is clear