ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशचुनाव बाद NCP ने शिवसेना से मिलकर किया निकाह, इनमें दुल्हा कौन मुझे नहीं पता: ओवैसी

चुनाव बाद NCP ने शिवसेना से मिलकर किया निकाह, इनमें दुल्हा कौन मुझे नहीं पता: ओवैसी

महाराष्ट्र जल्द ही निकाय चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान होना है। निकाय चुनाव में अपनी पकड़ मजबूद करने के लिए एआईएएमआईएम प्रमुख पूरे दम-खम के साथ लगे हुए हैं। इसी कड़ी में उन्होंने भिवंडी में रैली की।

चुनाव बाद NCP ने शिवसेना से मिलकर किया निकाह, इनमें दुल्हा कौन मुझे नहीं पता: ओवैसी
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 28 May 2022 10:55 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी, शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला है। महाराष्ट्र के भिवंडी में एक सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने मंदिर-मस्जिद के मुद्दे को लेकर भी सत्ताधारी पार्टी बीजेपी पर निशाना साधा है।

ओवैसी ने कहा 'विधानसभा के चुनावों में राष्ट्रवादी कांग्रेस के लोग कह रहे थे कि ओवैसी को वोट मत देना क्योंकि भाजपा, शिवसेना को रोकना है। चुनाव होने के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस ने शिवसेना से मिलकर निकाह किया। अब इनमें दुल्हा कौन है यह मुझे नहीं पता।'

मंदिर-मस्जिद विवाद के बीच ओवैसी ने कहा, 'यह भारत न मेरा है, न उद्धव ठाकरे का है, न मोदी, न शाह का है। भारत अगर किसी का है तो वह द्रविड़ और आदिवासियों का है। चार जगहों से लोग आए थे लेकिन भाजपा सिर्फ मुगलों के पीछे पड़ी रहती है।' बता दें कि महाराष्ट्र में निकाय चुनाव होने वाला है।

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पिछले गुरुवार को कहा कि मथुरा और ज्ञानवापी विवाद का विचार मुस्लिम समुदाय के प्रति अविश्वास और हिंदुओं के बीच सुरक्षा की कमी का माहौल बनाना था। ओवैसी ने कहा कि इसका उद्देश्य देश को पीछे ले जाना भी है।

ओवैसी ने कहा कि यह उचित समय है कि देश के प्रधानमंत्री इन सभी मुद्दों को समाप्त कर दें और कहें कि उनकी सरकार पूजा स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम, 1991 पर कायम है। ओवैसी ने कहा कि उन्हें कहना चाहिए की उनकी सरकार देश में विभाजन पैदा करने वाले ऐसे कारणों का समर्थन नहीं करेगी।

epaper