DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आफतः केरल में मानसून आया लेकिन कर्नाटक में बाढ़ से लोगों का हाल बेहाल- VIDEO

manglore rains

केरल में मानसून क्या आया, मौसम ने तो अपना मिजाज ही बदल लिया। केरल में मानसून आने के अगले दिन ही कर्नाटक के कई शहरों में प्री-मानसून बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। मंगलवार शाम को मैंगलोर में बारिश से कई इलाकों में जलभराव हो गया। इससे लोगों के घरों और दुकानों में पानी भर गया। 

यहां मैंगलोर के कई इलाकों में पानी भर गया है। वहीं हूबली में तेज बारिश के बाद उत्पन्न हालात से राहत के लिए बचाव कार्य शुरू कर दिया है। मैंगलोर के पानांबुर में बारिश के साथ ही हवा भी चली। इलाकों में भरे पानी के चलते आस पास फंसे लोगों को नावों और अन्य साधनों के जरिए सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। मैंगलोर के साथ-साथ राज्य के हुबली में भारी बारिश हुई है। 

 

मैंगलोर में बारिश सुबह नौ बजे शुरू हुई और देखते ही देखते कोडियलगुथु, कोत्तरा, चौकी, वीवीएस, कदरी, कंबाला, पणजीमंगेरु, अदयार, येक्कुरु समेत कई इलाके पानी से भर गए. कई लाकों में तो घुटनों तक पानी भर गया।

स्कूल-कॉलेज बंद
राज्य में ऐहतियातन स्कूलों, कॉलेज और दुकानों को बंद करा दिया गया है। तेज हवाओं के कारण कई पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने मैंगलोर के कलेक्टर से हालात की जानकारी ली और तत्काल रहत कार्य के आदेश दिए।

वहीं, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी हालात का जायजा लिया और होम सेक्रेटरी से बात कर एनडीआरएफ की टीम भेजने की बात कही।

 

इन सबके बीच दक्षिण कन्नड़ से बीजेपी सांसद नलिन कुमार कतील बचाव कार्य देखने पहुंचे। मैंगलोर में बाढ़ की स्थिति के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। राहत और बचाव कार्य के लिए NDRF को तैनात कर दिया है। इसके साथ ही पूरे जिले को अलर्ट पर रखा गया है।

 

पीएम मोदी ने दिया हर मदद का भरोसा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश को लेकर चिंता जाहिर की है। उन्होंने ट्वीट किया कि वह इससे प्रभावित लोगों की सुरक्षा की कामना करते हैं। उन्होंने कहा कि इस संबंध में उन्होंने अधिकारियों से बात की है और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है।
प्रशासन की ओर से लोगों को सलाह दी गई है कि वे समुद्र तट की ओर न जाएं। 

ऐसी प्री मानसून बारिश नहीं देखी- स्थानीय लोग

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि यह प्री मानसून है। लेकिन ऐसी उम्मीद नहीं थी कि इतना पानी बरसेगा। वहीं, स्थानीय लोग बताते हैं कि उन्होंने प्री मानसून में ऐसी बारिश पिछले 25 सालों में तो कभी नहीं देखी। आपको बता दें कि सामान्य तौर पर मानसून 1 जून तक केरल पहुंचता है, लेकिन इस बार यह 3 दिन पहले ही केरल पहुंच चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:after kerala monsoon rains karnataka mangalore streets are water logged following pre monsoon rains