DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विपक्ष में असंतोष और इस्तीफों की झड़ी लगी, कांग्रेस और सपा में हार पर मंथन

Opposition parties meeting in Parliament premises in Delhi (Photo:ANI)

चुनाव में करारी शिकस्त के बाद विपक्षी दल सदमे से उबर नहीं पा रहे हैं। पाटियों के भीतर असंतोष पैदा हो गया है तो कहीं इस्तीफों की झड़ी लगी है। राहुल गांधी, ममता बनर्जी के इस्तीफे की पेशकश के बाद कांग्रेस के 13 प्रदेश अध्यक्षों ने इस्तीफा देने का ऐलान किया है।

सभी दलों में हार को लेकर मंथन चल रहा है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा हो चुकी है। उसके बाद महाराष्ट्र, पंजाब, झारखंड, असम, ओडिसा, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत 13 राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष इस्तीफा देने की बात कह चुके हैं।

बिहार में राजद नेता तेजस्वी यादव से उनकी ही पार्टी के एक विधायक ने इस्तीफा मांग लिया है। रालोसपा के भीतर असंतोष इतना बढ़ा कि उसके सभी विधायकों ने पार्टी छोड़ दी। वहीं, राजस्थान के एक मंत्री उदय लाल अंजाना ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्हें जोधपुर से बेटे को नहीं लड़ाना चाहिए था और उन्होंने आगाह भी किया। वामपंथी दलों के भीतर भी हार को लेकर असंतोष है। समीक्षा के लिए पोलित ब्यूरो की बैठक होनी है। वामनेताओं ने माना कि विपक्ष चुनाव की नब्ज नहीं पकड़ पाया।

राहुल गांधी के रुख पर संशय बरकरार
चुनाव में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने पद से इस्तीफे की पेशकश कर चुके हैं। पर उनके त्यागपत्र को लेकर अभी संशय बरकरार है।

अखिलेश यादव ने बड़े बदलाव के संकेत दिए
सपा में हार पर मंथन शुरू हो गया है। पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को जिला अध्यक्षों और संगठन के पदाधिकारियों के साथ चर्चा की। उन्होंने संगठन में बदलाव के साथ कई नेताओं पर कार्रवाई के भी संकेत दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After Huge Defeat in Lok Sabha Elections disaffection in Opposition