DA Image
3 दिसंबर, 2020|9:44|IST

अगली स्टोरी

आरोग्य सेतु ऐप पर किरकिरी और नोटिस के बाद सरकार ने कहा- देंगे सभी सूचना

officials said that the union ministry of electronics and information technology  meity  has taken t

आरोग्य सेतु ऐप के बारे में जानकारी ना होने की बात कहने और इसके बाद केन्द्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) के नोटिस के बाद हुई भारी किरकिरी को देखते हुए सफाई देते हुए केन्द्र ने कहा कि वह इस ऐप से जुड़ी सभी जानकारियां देने को लेकर प्रतिबद्ध है।

केन्द्र सरकार ने गुरुवार को कहा कि सूचना के अधिकार के तहत कंट्रैक्ट ट्रेसिंग एप्लिकेशन के बारे में मांगी गई सभी जानकारियां देने को लेकर वह प्रतिबद्ध है और सीआईसी के निर्देशों का पालन करती है। ऐप को डेवलप किए जाने के बारे में सरकार की तरफ से जवाब ना दिए जाने पर नोटिस जारी कर सीआईसी ने इस बारे में सफाई मांगी गई थी।

अधिकारियों ने बताया कि केन्द्रीय इलैक्ट्रोनिक्स एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलोजी (MeitY) ने आरोग्य सेतु के बारे में दी गई जानकारियों में का मुद्दा कड़ाई से उठाया है। आरोग्य सेतु ऐप के पास देश के करोड़ों लोगों के डेटा है।

उन्होंने कहा कि मंत्रालय की तरफ से इसके लिए जिम्मेदार अफसरों के खिलाफ कार्रवाई के लिए निर्देश जारी किए गए हैं। इसके साथ ही, नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर और नेशनल ई-गवर्नेंस डिविजन का आदेश दिया है कि उनके यहां पर आईटीआई के जवाब देने वाले अफसरों के खिलाफ सही कार्रवाई करें। उन्होंने बताया कि मंत्रालय आईटीआई एक्ट के तहत मांगी गई सभी सूचना देने को लेकर प्रतिबद्ध है और सीआईसी के निर्देशों का पालन करता है। सूचना आयोग ने सरकार के ऐप पर जवाब को ‘अत्यंत बेहूदा’ करार दिया था।

आरटीआई आवेदन सौरभ दास नाम के व्यक्ति ने लगाया कर निजता की चिंताओं के चलते ऐप को बनाए जाने के बारे में जानकारी मांगी थी। दास की तरफ से मांगे गए सवालों पर जवाब देने से एनआईसी, नेशनल ई-गवर्नेंस डिविजन और मिनिस्ट्री ऑफ इलैक्ट्रोनिक्स एंड टेक्नॉलोजी ने इनकार कर दिया था। इसके बाद सौरभ ने सीआईसी के सामने अपील दायर किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After gritty and notices on the Arogya Setu app now government says will give all information