DA Image
31 अक्तूबर, 2020|9:45|IST

अगली स्टोरी

दक्षिणी तट खाली कराने के बाद अब उत्तरी पैंगोंग में चीनी सेना की घेराबंदी, भारतीय जवानों की विशेष टुकड़ियां तैनात

after evacuating southern part now chinese army is under siege of indian army in north pangong

पैंगोंग लेक के दक्षिणी हिस्से को चीनी सेना से खाली कराने के बाद अब उत्तरी इलाके में भी चीनी सेना की घेराबंदी शुरू कर दी गई है। सेना के सूत्रों ने कहा कि एलएसी के भारतीय क्षेत्र में ऊंची पहाड़ियों पर सेना की विशेष टुकड़ियों को तैनात किया गया है। जो किसी भी हालात का मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। 

सेना के सूत्रों ने बुधवार को बताया कि चीनी सेना की फिंगर-4 से फिंगर-8 के इलाकों में तैनाती कायम रहने और दक्षिणी हिस्से में घुसपैठ की नाकाम कोशिश के बाद यह सुरक्षात्मक कदम उठाया गया है। पैंगोंग लेक के उत्तरी हिस्सों में ऊंची पहाड़ियों पर भारतीय सैनिकों की तैनाती की गई है। लेकिन भारतीय सैनिक जिस क्षेत्र में है, वह पूरी तरह से भारतीय क्षेत्र में है, लेकिन वहां से पैंगोंग लेक के उत्तरी इलाके पर भारत को रणनीति बढ़त मिलती है।

यह भी पढ़ें- चीन के खिलाफ लामबंदी? भारत-ऑस्ट्रेलिया-इंडोनेशिया के विदेश और रक्षा मंत्रियों की होगी बैठक

फिंगर-4 की पहाड़ियों पर चीनी सेना अब भी काबिज
पूर्व में ऐसी खबरें आई थी कि चीन ने फिंगर-4 इलाका खाली कर दिया। लेकिन निचले इलाके से ही चीनी सेना हटी थीं और चोटियों पर अब भी डटी हुई है। इसी प्रकार फिंगर आठ तक के करीब पांच-छह किलोमीटर तक के क्षेत्र में चीनी सेना ऊंचाई पर जगह-जगह मौजूद है। इसमें से ज्यादातर हिस्सा पैंगोंग झील के उत्तरी छोर की तरफ पड़ता है। इसलिए इस इलाके को कवर करते हुए भारतीय सेना ने अपने इलाकों में जबरदस्त रणनीतिक तैनाती कर ली है।

सेना के एक अधिकारी ने कहा कि पहले हम निचले इलाकों में मौजूद थे, लेकिन हालात बिगड़ते हैं तो हमारे लिए कठिन हो सकता था। लेकिन अब सेना झील के समूचे उत्तरी इलाके में मजबूत स्थिति में आ चुकी है। इसलिए चीनी सेना को यह स्थान जल्द खाली करने के लिए विवश होना पड़ेगा। 

यह भी पढ़ें- सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने ऐपलॉक और PUBG समेत 118 ऐप को किया बैन, ये रही पूरी लिस्ट

ब्रिगेड कमांडर स्तर की वार्ता तीसरे दिन भी जारी 
दोनों देशों की सेनाओं के बीच ब्रिगेडियर स्तर की वार्ता तीसरे दिन भी जारी रही। सूत्रों का कहना है कि वार्ता में लगातार टकराव की बना हुआ है। सूत्रों ने बताया कि दोनों देश की सेना ने चुशुल में ब्रिगेड कमांडर स्तर की वार्ता की है, जिसमें मुख्य रूप से पैंगोंग झील इलाके में तनाव घटाने पर ध्यान केंद्रित किया गया। सूत्रों ने यह भी बताया कि सोमवार और मंगलवार को छह घंटे से अधिक समय तक इसी तरह की वार्ता हुई, लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला। उन्होंने बताया कि भारत ने पूर्वी लद्दाख में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कई पर्वत चोटियों और स्थानों पर कब्जा कर पिछले कुछ दिनों में रणनीतिक बढ़त हासिल की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After evacuating southern part now Chinese army is under siege of Indian Army in North Pangong