DA Image
29 फरवरी, 2020|4:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भड़काऊ भाषण को लेकर शरजील इमाम पर कसा पुलिस का शिकंजा, अब बिहार में घर पर पड़ी पुलिस की रेड

jnu former student sharjeel imam  file pic

असम को देश के बाकी हिस्सों से काटने के दिए विवादित भाषण का एक वीडियो वायरल होने के बाद जेएनयू के पूर्व छात्र और शाहीन बाग प्रदर्शन के मुख्य आयोजक शरजील पर पुलिस का लगातार शिकंजा कसता जा रहा है। एक तरफ जहां उसके खिलाफ यूपी, दिल्ली, अरूणाचल और असम की पुलिस ने केस दर्ज किया है, तो वहीं दूसरी शनिवार की रात बिहार के जहानाबाद में पुलिस उसके घर पहुंची।

जहानाबाद जिले के शरजील इमाम पर के घर पहुंची दिल्ली और यूपी की पुलिस ने स्थानीय थाने की पुलिस के सहयोग से शनिवार की रात में ही काको मलिक टोला में छापेमारी की। पुलिस ने रात के समय उसके चचेरे भाई समेत तीन लोगों को हिरासत में लिया था, हालांकि बाद में पूछताछ के बाद उन्हें  छोड़ दिया गया।

पुलिस ने की शरजील के घर छापेमारी 

शरजील इमाम जहानाबाद जिले के काको निवासी महरूम अकबर इमाम का बेटा है। एसपी मनीष ने बताया कि दिल्ली की पुलिस आई थी और आरोपी शरजील इमाम की गिरफ्तारी के लिए यह छापेमारी की गई। 

खबरों के मुताबिक, रविवार की सुबह जहानाबाद शहर के जाफर गंज, गडरिया खंड समेत कई जगहों पर दिल्ली और जहानाबाद पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की। जहानाबाद स्टेशन और बस स्टैंड के पास भी उसकी तलाश की गई। लेकिन कोई सुराग नहीं मिला।

जहानाबाद में दिखा था शरजील  

सूत्रों के मुताबिक, शनिवार को शरजिल इमाम को जहानाबाद में देखा गया था। उसके पिता महरूम अकबर इमाम जदयू के नेता थे। शरजील इमाम मुंबई से बीटेक की डिग्री हासिल कर जेएनयू में पीएचडी कर रहा था। वह  एक  संगठन का नेता भी है। फिलहाल आरोपित की  गिरफ्तारी के लिए पुलिस  गुप्त तरीके  से कोशिश कर रही है। हालांकि पुलिस सूत्रों  के अनुसार दिल्ली पुलिस फिलहाल जहानाबाद से लौट चुकी है।

ये भी पढ़ें: शरजील पर दो और राज्यों में केस, बिहार में गिरफ्तारी के लिए रेड

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After Delhi cases against Sharjil Imam in Arunachal and Manipur also while raids in Bihar for his arrest