Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशमां के पैर छूए, फिर गले लगाया...आर. हरि कुमार ने संभाला नौसेना प्रमुख का पदभार, जानें नए नेवी चीफ के बारे में सबकुछ

मां के पैर छूए, फिर गले लगाया...आर. हरि कुमार ने संभाला नौसेना प्रमुख का पदभार, जानें नए नेवी चीफ के बारे में सबकुछ

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीShankar Pandit
Tue, 30 Nov 2021 05:07 PM
मां के पैर छूए, फिर गले लगाया...आर. हरि कुमार ने संभाला नौसेना प्रमुख का पदभार, जानें नए नेवी चीफ के बारे में सबकुछ

इस खबर को सुनें

एडमिरल आर. हरि कुमार ने मंगलवार को नौसेना प्रमुख का पदभार संभाल लिया। एडमिरल आर. हरि कुमार ने नए नौसेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने पर अपनी मां से आशीर्वाद लिया और उन्हें गले लगाया। उन्होंने 30 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे एडमिरल करमबीर सिंह का स्थान लिया। समाचार एजेंसी एएनआई ने इस खास पल का एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें देखा जा सकता है कि कैसे नौसेना के नए प्रमुख आर. हरि कुमार अपनी मां से आशीर्वाद लेते हैं और उन्हें गले लगा लेते हैं।

हरि कुमार वाइस एडमिरल के रूप में कार्यभार संभालने से पहले एकीकृत रक्षा स्टाफ मुख्यालय की एकीकृत स्टाफ समिति के प्रमुख थे। 12 अप्रैल 1962 को जन्मे वाइस एडमिरल कुमार को 1 जनवरी 1983 को भारतीय नौसेना की कार्यकारी शाखा में कमीशन दिया गया था। लगभग 39 वर्षों की अपनी लंबी और विशिष्ट सेवा के दौरान वाइस एडमिरल ने विभिन्न कमांड, स्टाफ और निर्देशात्मक पदों पर काम किया है।

परम विशिष्ट सेवा मेडल से अलंकृत
वाइस एडमिरल कुमार ने पश्चिमी बेड़े के संचालन अधिकारी के रूप में कार्य किया। वर्तमान में कुमार की समुद्री कमान में आईएनएस निशंक, मिसाइल कार्वेट, आईएनएस कोरा और गाइडेड मिसाइल डिस्ट्रॉयर आईएनएस रणवीर शामिल हैं। वाइस एडमिरल कुमार ने नेवल वॉर कॉलेज, यूएस, आर्मी वॉर कॉलेज, महू और रॉयल कॉलेज ऑफ डिफेंस स्टडीज, यूके से कोर्स किया है। उन्हें परम विशिष्ट सेवा मेडल (पीवीएसएम), अति विशिष्ट सेवा मेडल (एवीएसएम) और विशिष्ट सेवा मेडल से अलंकृत किया गया है।

1981 में एनडीए से ग्रेजुएट हुए
मुंबई यूनिवर्सिटी से डिफेंस एंड स्ट्रैटिजिक स्टडीज में आर हरि कुमार एमफिल कर चुके हैं। केरल के त्रिवेंद्रम में जन्मे कुमार ने शुरुआती शिक्षा मन्नम मेमोरियल रेजिडेंशियल हाई स्कूल से की है। इसके बाद उन्होंने तिरुअनंतपुरम के गवर्नमेंट आर्ट्स कॉलेज से प्री-डिग्री कोर्स किया। उन्होंने साल 1979 में नेशनल डिफेंस अकादमी के 61 कोर्स में भाग लिया और उन्हें जूलियट स्क्वॉड्रन दिया गया। साल 1981 में वह एनडीए से ग्रेजुएट हुए। उन्होंने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री ली और किंग्स कॉलेज लंदन से मास्टर्स डिग्री।

epaper

संबंधित खबरें