administration took 104 bigha land of azam khan s Johar University - आजम खां पर कसा शिकंजा, प्रशासन ने जौहर यूनिवर्सिटी की 104 बीघा जमीन कब्जे में ली DA Image
20 फरवरी, 2020|6:46|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजम खां पर कसा शिकंजा, प्रशासन ने जौहर यूनिवर्सिटी की 104 बीघा जमीन कब्जे में ली

दलितों की 104 बीघा जमीन नियम विरुद्ध खरीदने के मुकदमों में जीत के बाद प्रशासन ने बुधवार को जौहर विवि परिसर स्थित इस जमीन को अपने कब्जे में ले लिया। साथ ही 1.37 करोड़ के सेस बकाया के मामले में कैंपस में स्थित चांसलर एन्क्लेव के दो भवन भी सील कर दिए हैं। इस कार्रवाई को जौहर विवि के चांसलर और सपा सांसद आजम के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के तौर पर देखा जा रहा है। बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने 2017 में मुख्यमंत्री से जमीनों की नियमविरुद्ध जमीनों की खरीद की शिकायत की थी। इसके मुताबिक तहसील सदर की ग्रामसभा सीगनखेड़ा की जमीन 2007 से अनुसूचित जाति के लोगों के नाम सीलिंग पट्टे के रूप में अंकित थी। 

राजस्व अभिलेखों में ये लोग संक्रमणीय भूमिधर घोषित नहीं हुए थे। इसके बाद भी इनकी भूमि खरीदी गई। नियमानुसार एससी जाति के व्यक्ति के नाम पट्टा होने के कारण भूमि को सामान्य श्रेणी के विश्वविद्यालय को नहीं बेचा जा सकता था। इस खरीद में उत्तर प्रदेश जमींदारी विनाश एवं भूमि व्यवस्था अधिनियम 1950 का भी उल्लंघन किया गया। जांच में आरोप सही मिलने पर छह मार्च 2018 को तत्कालीन जिलाधिकारी ने पूर्व मंत्री आजम खां के खिलाफ राजस्व परिषद प्रयागराज में दस निगरानी वाद दायर कराए थे। दोनों पक्षों को सुनने के बाद राजस्व परिषद ने चंद रोज पहले सरकार के पक्ष में फैसला दिया है।

राजस्व परिषद ने पूर्व में कमिश्नर मुरादाबाद द्वारा आजम के पक्ष में किए गए आदेश को खारिज कर दिया। इसी आदेश के बाद बुधवार को एसडीएम सदर पीपी तिवारी, शाहबाद एसडीएम प्रवीण कुमार और ज्वाइंट मजिस्ट्रेट गौरव कुमार भारी पुलिस बल के साथ जौहर विवि पहुंचे और संबंधित 104 बीघा जमीन की पैमाइश कर इसकी ठियाबंदी कराते हुए प्रशासन ने कब्जे में ले लिया।

इसके साथ ही प्रशासन ने जौहर विश्वविद्यालय पर 1.37 करोड़ के सेस बकाया में बुधवार को ही प्रशासनिक भवन सील करने की कार्रवाई शुरू। इस पर प्रबंधन ने प्रशासनिक भवन में परीक्षा संबंधी दस्तावेज होने की जानकारी दी और इस भवन के स्थान पर कोई और भवन सील करने का अनुरोध किया। इस पर प्रशासन ने चांसलर एन्क्लेव के दो भवन सील कर दिए।

दलितों की जमीन प्रकरण में राजस्व परिषद के आदेश के  अनुपालन में जौहर विवि परिसर स्थित 104 बीघा जमीन को प्रशासन ने अपने कब्जे में ले लिया है। साथ ही 1.37 करोड़ के सेस बकाया के मामले में बतौर बंधक भवन सील किए गए हैं ताकि, जरूरत पड़ने पर संबंधित भवन को नीलाम कर राजस्व वसूली की जा सके।
-आन्जनेय कुमार सिंह, डीएम

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:administration took 104 bigha land of azam khan s Johar University