ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशअभिनेत्री के यौन उत्पीड़न मामले में अभिनेता दिलीप से 11 घंटे पूछताछ, क्राइम ब्रांच ने कल फिर बुलाया

अभिनेत्री के यौन उत्पीड़न मामले में अभिनेता दिलीप से 11 घंटे पूछताछ, क्राइम ब्रांच ने कल फिर बुलाया

यौन उत्पीड़न से जुड़े 2017 के एक मामले की जांच कर रहे अधिकारियों को धमकी दिए जाने के मामले में अभिनेता दिलीप और अन्य आरोपी रविवार को पुलिस की अपराध शाखा के कार्यालय में पेश हुए, जहां उनसे 11 घंटे तक...

अभिनेत्री के यौन उत्पीड़न मामले में अभिनेता दिलीप से 11 घंटे पूछताछ, क्राइम ब्रांच ने कल फिर बुलाया
Niteesh Kumarभाषा,कोच्चिSun, 23 Jan 2022 11:06 PM

इस खबर को सुनें

यौन उत्पीड़न से जुड़े 2017 के एक मामले की जांच कर रहे अधिकारियों को धमकी दिए जाने के मामले में अभिनेता दिलीप और अन्य आरोपी रविवार को पुलिस की अपराध शाखा के कार्यालय में पेश हुए, जहां उनसे 11 घंटे तक पूछताछ की गई। केरल हाई कोर्ट के आदेश पर अभिनेता और अन्य आरोपियों को सोमवार को सुबह नौ बजे अपराध शाखा के सामने फिर पेश होना होगा।

दिलीप ने कथित रूप से अपराध शाखा के अधिकारियों को बताया कि फिल्म निर्देशक बालाचंद्र कुमार ने उन्हें धमकी दी थी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एस श्रीजीत और पुलिस महानिरीक्षक गोपेश अग्रवाल ने पूछताछ की। सूत्रों ने बताया कि पांचों आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ के लिए पांच टीम गठित की गई हैं।

'जरूरत पड़ी तो हम और लोगों के बयान दर्ज होंगे'
श्रीजीत ने मीडिया से बातचीत में कहा, ''आरोपियों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। अभी तक, वे सभी सवालों के जवाब दे रहे हैं। हालांकि, वे हमें सही उत्तर दे रहे हैं या नहीं, यह एक ऐसा मामला है जिसे हमें बाद में सत्यापित करना होगा। अगर जरूरत पड़ी तो हम और लोगों के बयान दर्ज करेंगे। जिन लोगों ने इस मामले में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन नहीं किया है, उनसे भी पूछताछ की जाएगी।''

'पूछताछ को रिकॉर्ड किया जाएगा, क्योंकि...'
हाईकोर्ट ने शनिवार को अग्रिम जमानत याचिका पर विचार करते हुए दिलीप को गिरफ्तारी से अंतरिम संरक्षण प्रदान किया, लेकिन उन्हें और अन्य आरोपियों को पूछताछ के लिए 23, 24 और 25 जनवरी को जांच अधिकारियों के सामने पेश होने का निर्देश दिया। अपराध शाखा के सूत्रों ने पहले कहा था कि पूछताछ को रिकॉर्ड किया जाएगा, क्योंकि उन्हें संदेह है कि अभिनेता और अन्य आरोपी पूछताछ के दौरान उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं।

epaper