DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  दिल्ली के बाद अन्य राज्यों पर AAP की नजर, एक करोड़ लोगों को जोड़ने के लिए शुरू करेगी अभियान

देशदिल्ली के बाद अन्य राज्यों पर AAP की नजर, एक करोड़ लोगों को जोड़ने के लिए शुरू करेगी अभियान

भाषा,नई दिल्लीPublished By: Rakesh
Mon, 17 Feb 2020 01:42 AM
दिल्ली के बाद अन्य राज्यों पर AAP की नजर, एक करोड़ लोगों को जोड़ने के लिए शुरू करेगी अभियान

आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी एक करोड़ लोगों को जोड़ने के लिए 23 फरवरी से 23 मार्च तक सभी राज्यों में एक अभियान शुरू करेगी जो आप के विस्तार का हिस्सा है। राष्ट्रीय राजधानी में मुख्यमंत्री के आवास पर पार्टी के राज्य पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद राय ने पीटीआई भाषा से कहा, “तीन चीजों पर काम करने का निर्णय लिया गया है।”

उन्होंने कहा, “पहले निर्णय के तहत राज्य इकाइयां 23 फरवरी से 23 मार्च तक राष्ट्रीय निर्माण अभियान शुरू करेंगी। इसके तहत सभी कार्यकर्ता सभाएं करेंगे और उनका मकसद एक करोड़ लोगों को पार्टी से जोड़ना होगा।” राय ने कहा, “दूसरे निर्णय के तहत वे एक पोस्टर अभियान भी चलाएंगे, जिसमें दर्ज मोबाइल नंबर पर लोगों से मिस्ड काल करने के लिए कहेंगे।"

उन्होंने कहा कि तीसरे कदम के तौर पर सभी राज्यों के पार्टी पदाधिकारी राजधानियों में, फिर प्रमुख शहरों में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन करेंगे और राष्ट्र निर्माण के लिए लोगों को आम आदमी पार्टी में शामिल होने के लिए कहेंगे।

राय ने कहा, ''कई राज्यों में आने वाले महीनों में चूंकि स्थानीय निकायों के चुनाव निर्धारित हैं, हम चाहते हैं कि यह अभियान जमीनी स्तर पर चले ताकि हम स्थानीय निकाय के चुनाव लड़ सकें और बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकें।" अभियान के अगले चरण में पार्टी यह तय करेगी कि कहां विधानसभा चुनाव लड़ा जाए। पार्टी पहले ही स्थानीय चुनाव लड़ने के बारे में निर्णय कर चुकी है। 

आम आदमी पार्टी निर्वाचन आयोग में फिलहाल राज्य पार्टी के तौर पर पंजीकृत है और 2017 में पंजाब विधानसभा चुनाव में यह मुख्य विपक्षी के तौर पर उभरी थी। बैठक में पार्टी के बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, गोवा और कर्नाटक सहित अन्य राज्यों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया था।

उपराज्यपाल बैजल ने दिलाई केजरीवाल मंत्रिमंडल को पद और गोपनीयता की शपथ
वहीं दूसरी ओर, दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) को पूर्ण बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार मिली जीत के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल ने रविवार (16 फरवरी) को आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल के छह सदस्यों को मंत्री पद की शपथ दिलाई। केजरीवाल मंत्रिमंडल के तीन मंत्रियों गोपाल राय, इमरान हुसैन और राजेन्द्र पाल गौतम ने ईश्वर के नाम पर शपथ लेने की परंपरा का अनुसरण नहीं किया। राय ने आजादी के शहीदों के नाम पर, इमरान ने अल्लाह के नाम पर और गौतम ने बुद्ध के नाम पर शपथ ली।

दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर केजरीवाल ने लगातार तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। बैजल ने केजरीवाल के बाद पिछली सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे मनीष सिसोदिया और अन्य मंत्रियों सत्येन्द्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन एवं राजेन्द्र पाल गौतम को भी एक-एक कर शपथ ग्रहण करवाई। 

संबंधित खबरें