ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशतिहाड़ जेल में इंग्लिश नॉवेल पढ़ेगा वीभत्स हत्याकांड का आरोपी आफताब, मिली किताब

तिहाड़ जेल में इंग्लिश नॉवेल पढ़ेगा वीभत्स हत्याकांड का आरोपी आफताब, मिली किताब

तिहाड़ जेल में बंद श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब ने पढ़ने के लिए किताब मांगी है। आफताब द्वारा मांगी गई यह किताब अमेरिकी नॉवेलिस्ट पॉल थेरॉक्स द्वारा लिखा ट्रैवेलॉग है, जो उसे दिया गया है।

तिहाड़ जेल में इंग्लिश नॉवेल पढ़ेगा वीभत्स हत्याकांड का आरोपी आफताब, मिली किताब
Deepakअनिरुद्ध धर, हिंदुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीSat, 03 Dec 2022 10:59 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Shraddha Murder Case: तिहाड़ जेल में बंद श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब ने पढ़ने के लिए किताब मांगी है। आफताब द्वारा मांगी गई यह किताब अमेरिकी नॉवेलिस्ट पॉल थेरॉक्स द्वारा लिखा ट्रैवेलॉग ‘द ग्रेट रेलवे बाजार-बाइ ट्रेन थ्रू एशिया’ है। तिहाड़ जेल प्रशासन ने आफताब की मांग पूरी करते हुए यह किताब पढ़ने के लिए उपलब्ध करा दी है। गौरतलब है कि आफताब ने जेल प्रशासन से पढ़ने के लिए अंग्रेजी नॉवेल्स और साहित्यिक किताबों की मांग की थी। बता दें कि अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा की हत्या के आरोपी आफताब को तिहाड़ जेल में रखा गया है।

क्राइम बेस्ड किताब नहीं
तिहाड़ जेल सूत्रों के मुताबिक आफताब को जो किताब दी गई है, वह क्राइम पर आधारित नहीं है। ना ही, इस किताब में ऐसा कोई कंटेंट है, जिस पढ़कर वह खुद को या दूसरों को किसी तरह का नुकसान पहुंचा सके। जेल अधिकारियों के मुताबिक हम कैदियों की देखरेख प्रोटोकॉल के मुताबिक ही कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आफताब ने अंग्रेजी उपन्यास और कुछ अन्य किताबें मांगी थीं। उसने कहा था कि वह पढ़ना चाहता है और साहित्यिक गतिविधियों में इंवॉल्व रहना चाहता है। फिलहाल के लिए उसे जेल की लाइब्रेरी से द ग्रेट रेलवे बाजार दी गई है। बाद में उसे अन्य किताबें दी जाएंगी।

शतरंज का खिलाड़ी
ऐसी भी खबरें आई हैं कि जेल में आफताब पूनावाला, शतरंज की चालों की प्रैक्टिस करता रहता है। कई बार वह यह सब अकेले करता है और कई बार अपने दो अन्य साथी कैदियों के साथ। तिहाड़ में आफताब को जेल नंबर 4 की सेल नंबर 15 में रखा गया है। उसकी सेल में दो अन्य कैदी भी हैं, जिनके साथ वह अक्सर चेस खेलता रहता है। यह दोनों कैदी, चोरी के केस में बंद हैं। जेल अधिकारियों ने बताया कि कई बार वह अकेला खिलाड़ी होता है और दोनों तरफ से खुद ही चाल चलता है। बताया जाता है वह शतरंज का अच्छा खिलाड़ी है। उसकी शतरंज की चालों ने जांचकर्ताओं को भी उलझन में डाल रखा है कि कहीं वह इस केस में भी तो कोई चाल नहीं चल रहा है।

हो चुका है पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट
जहां तक केस की बात है तो आफताब का पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट हो चुका है। दोनों ही टेस्ट के दौरान उसने श्रद्धा की हत्या करने और उसके शरीर के टुकड़े करने की बात स्वीकार की है। आफताब अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा वॉलकर की हत्या और उसके शरीर के 35 टुकड़े करने का आरोपी है। उसके ऊपर यह भी आरोप है कि उसने लाश के टुकड़ों को एक फ्रिज में रखा था और बाद में उन्हें दिल्ली और गुड़गांव के जंगलों में ठिकाने लगा दिया। दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में इस बात की रिपोर्ट भी पेश की है कि आफताब जांच को गुमराह करने की कोशिश कर रहा था और झूठी जानकारियां दे रहा था।