DA Image
7 मई, 2021|11:06|IST

अगली स्टोरी

जानें अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए 'लंका' से क्या आ रहा है? माता सीता से है कनेक्शन

श्रीलंका में सीता एलिया नामक स्थान के एक पत्थर का इस्तेमाल अयोध्या में हो रहे भव्य राम मंदिर के निर्माण में किया जाएगा। माना जाता है कि श्रीलंका में यही वो जगह है, जहां माता सीता को बंदी बनाकर रखा गया था। 

इस पत्थर को श्रीलंका के उच्चायुक्त द्वारा भारत मिलिंडा मोरागोड़ा द्वारा भारत में लाए जाने की उम्मीद है।

सीता एलिया में माता सीता को समर्पित एक मंदिर भी है और कहा जाता है कि यह उस स्थान को चिह्नित करता है, जहां उन्हें रावण द्वारा बंदी बनाया गया था। माना जाता है कि यही वह जगह है, जहां वह नियमित रूप से भगवान राम द्वारा उन्हें बचा ले जाने की प्रार्थना करती थीं।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल अगस्त में अयोध्या में भव्य राम मंदिर की आधारशिला रखी थी। 

वहीं, श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का कार्य सौंपा गया है। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर के लगभग तीन साल में पूरे होने की संभावना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A Stone from Sita Eliya in Sri Lanka to be brought for Ram temple in Ayodhya