DA Image
3 अप्रैल, 2020|11:07|IST

अगली स्टोरी

पुलिस बनकर घूम रहा व्यक्ति गिरफ्तार, नकली वर्दी में कर रहा था शराब के ठेके की चेकिंग

arrest  symbolic image

राजस्थान में सीकर जिले के नेछवा थाना क्षेत्र में पुलिस की नकली वर्दी पहनकर घूम रहे एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।पुलिस ने गश्त के दौरान पुलिस की वर्दी पहन कर गांव वालों को धमकाते व शराब ठेके की चेकिंग करते एक इस व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी की पहचान क्षेत्र के जालू गांव निवासी हेम सिंह ; 26द्ध के रूप में की गई है।
 
पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला ने बताया कि गुरुवार शाम को नेछवा थाने के हेड कांस्टेबल भंवर लाल ने टीम के साथ गश्त के दौरान गांव बठोठ में सफेद रंग की स्वीफट वीडीआई गाडी जिसकी आगे नम्बर प्लेट पर लाल पटटी व अशोक स्तम्भ लगा हुआ तथा शीशे पर बत्ती जली हुई थी को जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया आरोपी राजस्थान पुलिस की बैच लगी वदीर् में गाड़ी चला रहा था। तलाशी में परिवहन विभाग की जाली आईडी मिली। जाली आइडी दिखाकर बठोठ गांव के लोगों को परिवहन विभाग का ड्राईवर बनकर डरा धमका रहा था व बठोठ के शराब ठेका को चैक करता पाया गया।

प्रधानमंत्री मोदी की 14 अप्रैल तक चलने वाली तीन हफ्ते की ऑल इंडिया लॉकडाउन अपील के बाद ही देश के सारे राज्यों में शराब की दुकानें बंद हो गई थीं। प्रधानमंत्री मोदी ने देश को अपने संबोधन में साफ कहा था कि लॉकडाउन के दौरान राशन, सब्जी, फल, दूध, मेडिकल समेत सभी इमरजेंसी सेवाओं को छूट रहेगी। शराब कहीं से भी अनिवार्य या जरूरी सेवा नहीं है लेकिन फिर भी दो दिन से हरियाणा में शराब की दुकानें खुली हुई थीं। अब इन्हें बंद कराया गया है।

कोरोना वायरस से भारत समेत दुनिया बुरी तरह त्रस्त हो चुकी है। देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच गुरुवार को कोरोना संक्रमण से रिकॉर्ड छह मरीजों की मौत हो गई।  इन खबरों के बीच राहत की बात ये है कि कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी की दर स्थिर है। गुरुवार को संक्रमण के 89 नए मामले मिले, जो बुधवार से दो अधिक हैं। 23 मार्च को सर्वाधिक 107 नए मामले सामने आए थे। 24 मार्च 51, 25 मार्च 87 और 26 मार्च 89 नए मरीज मिले थे। भारत में कुल मामले 700 के करीब पहुंच चुके हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A person walking around as a policeman was arrested was checking liquor contracts in fake uniform