DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुजरात-पाक सीमा पर 2,061 फेंसिंग लाइट खंभों में से 616 ही कर रहे हैं काम

प्रतीकात्मक तस्वीर

गुजरात के भुज और गांधीनगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 2,061 फेंसिंग लाइट खंभों में से केवल 616 ही काम कर रहे हैं। पिछले महीने अंतर विभागीय समन्वय समिति की बैठक के 'मिनट्स में सीमा सुरक्षाबल (बीएसएफ) ने केंद्रीय लोकनिर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) को यह बात बताई।

बीएसएफ ने सीपीडब्ल्यूडी को यह भी सूचित किया कि 82 डीजल जेनरेटरों में से केवल 38 ही काम कर रहे हैं जिससे संवेदनशील अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जवानों की 'अभियानगत ड्यूटी प्रभावित हो रही है। बैठक दिल्ली स्थित बीएसएफ मुख्यालय में हुई। इसमें बीएसएफ और सरकार की सबसे बड़ी निर्माण इकाई सीपीडब्ल्यूडी के वरिष्ठ अधिकारियों ने विभिन्न परियोजनाओं पर चर्चा की।

बीएसएफ महानिदेशक रजनीकांत मिश्रा और सीपीडब्ल्यू डी के महानिदेशक प्रभाकर सिंह भी 16 नवंबर को हुई इस बैठक में शामिल हुए। बल द्वारा तैयार किए गए बैठक के मिनट्स सीपीडब्ल्यूडी के महानिदेशक को 12 दिसंबर को भेजे गए। इस संबंध में सीपीडब्ल्यूडी से आग्रह किया गया कि वह जल्द से जल्द मरम्मत संबंधी कार्य करे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:616 of 2061 fencing light pillars on Gujarat Pak border are working