DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  सोशल मीडिया पर मिला 'दिल का डॉक्टर', इलाज के नाम पर महिला से लूटे 80 लाख रुपये
देश

सोशल मीडिया पर मिला 'दिल का डॉक्टर', इलाज के नाम पर महिला से लूटे 80 लाख रुपये

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mrinal Sinha
Mon, 14 Jun 2021 11:59 AM
सोशल मीडिया पर मिला 'दिल का डॉक्टर', इलाज के नाम पर महिला से लूटे 80 लाख रुपये

बेंगलुरु में एक 50 वर्षीय विधवा महिला से 80 लाख रुपयों की लूट का मामला सामने आया है। खुद को यूके का कार्डियोलॉजिस्ट बताकर आरोपी और उसके सहयोगियों महिला से ये ठगी की है। बेंगलुरू मिरर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, शिकायत दर्ज कराने वाली महिला एक हार्ट पेशेंट है। वह अपने इलाज के लिए माविस हॉर्मोन नाम के इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिए आरोपी से जुड़ी थी।

इलाज के नाम पर ठगी

अपनी शिकायत में, महिला ने कहा कि उसे 23 जनवरी को यूके में बसे माविस हॉर्मोन नाम के एक "कार्डियोलॉजिस्ट" का इंस्टाग्राम प्रोफाइल मिला। हार्ट पेशेंट होने के चलते महिला ने उससे इलाज के लिए बातचीत शुरू की। इसके अलावा, सिंगल मदर होने की वजह से वह एक जीवनसाथी की भी तलाश कर रही थी और बातचीत के बाद माविस को पसंद करने लगी।

'बदमाश बोला- तुम्हें सरप्राइज भेजा है'

बातचीत में माविस अकसर उसके इलाज को लेकर चर्चा करता था। एक दिन माविस ने महिला को बताया कि उसने उसे कोरियर के जरिए एक सरप्राइज गिफ्ट भेजा है। बाद में, महिला को आरोपी के सहयोगियों ने ही दिल्ली एयरपोर्ट के कस्टम अधिकारी बनकर फोन किया। उन्होंने उसे बताया कि उनके लिए आए गिफ्ट बॉक्स में 35,000 पाउंड मिले हैं। साथ ही उन्होंने  कानूनी पचड़े से बचाने के नाम पर महिला से पैसों की मांग की।

वित्त मंत्री का नाम लेकर लूट

लूट के इस पूरे जाल से अंजान महिला ने आरोपी द्वारा बताए गए बैंक खातों में लाखों रुपये भेजे। जब उसने पैसे भेजना बंद कर दिया, तो उसके पास गृह मंत्रालय के नाम पर फोन आया। इस बार बदमाशों ने पैसे की मांग करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का नाम लिया। आरोपी ने कहा कि चूंकि दिल्ली में लॉकडाउन चल है, इसलिए परेशानी से बचने के लिए उसे जल्द से जल्द पैसे भेजने होंगे।

महिला को अचानकर एहसास हुआ कि कुछ गड़बड़ है और उसने इस तरह के फोन का जवाब देना बंद कर दिया। महिला ने बताया कि लूटे गए पैसे का एक हिस्सा उसके दिवंगत पति ने उसके लिए छोड़ा था। इसके बाद महिला ने बनशंकरी पुलिस को शिकायत दर्ज कराई। आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज किया गया है।

संबंधित खबरें