ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशभारत-बांग्लादेश सीमा पर 4 बच्चे जिंदा दफन, टीएमसी का आरोप- BSF ने खोदी थी जमीन

भारत-बांग्लादेश सीमा पर 4 बच्चे जिंदा दफन, टीएमसी का आरोप- BSF ने खोदी थी जमीन

पश्चिम बंगाल से सटे भारत-बांग्लादेश सीमा पर सोमवार दोपहर एक बड़ा हादसा हो गया। यहां खेल-खेल में 4 बच्चे सीमा पर मौजूद खाई में गिरने से जिंदा दफन हो गए। टीएमसी का आरोप है कि BSF ने यहां जमीन खोदी थी।

भारत-बांग्लादेश सीमा पर 4 बच्चे जिंदा दफन, टीएमसी का आरोप- BSF ने खोदी थी जमीन
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,कोलकाताMon, 12 Feb 2024 09:04 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा पर बीएसएफ द्वारा खोदी जा रही खाई में दब जाने से पांच से 12 साल की उम्र के चार बच्चे जिंदा दफन हो गए। पुलिस ने बताया कि पांच बच्चे अंतरराष्ट्रीय सीमा पर खोदी गई खाई में खेल रहे थे, जिसमें वे गिर गए और चार की मौत हो गई। उधऱ, अर्धसैनिक बल ने आरोपों को खारिज कर दिया है। इस घटना ने राजनीतिक विवाद खड़ा कर दिया है। टीएमसी ने मंगलवार को विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया है।

इस्लामपुर पुलिस जिले के पुलिस अधीक्षक जॉबी थॉमस ने कहा, “खाई 10-15 फीट गहरी थी। किसी तरह मिट्टी का एक हिस्सा धंस गया और चारों बच्चे दब गए। उनमें से एक बाल-बाल बच गया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। हम जांच कर रहे हैं।” बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जब यह हादसा हुआ जब कुछ लोग मिट्टी खोदने के लिए अर्थ मूविंग मशीनों का इस्तेमाल कर रहे थे।

बीएसएफ का कहना है, “लोग अर्थ मूविंग मशीनों और ट्रैक्टरों से मिट्टी की खुदाई कर रहे थे। वहां बच्चे खेल रहे थे। अचानक मिट्टी का एक हिस्सा धंस गया और बच्चे उसमें दब गए। बीएसएफ ने फंसे हुए पीड़ितों को निकालने में मदद की और उन्हें अपने वाहनों से अस्पताल पहुंचाया। उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।"

इस घटना से राजनीतिक विवाद पैदा हो गया और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि सीमा सुरक्षा बलों (बीएसएफ) की लापरवाही के कारण बच्चों की मौत हुई। उधऱ, अर्धसैनिक बल ने आरोपों को खारिज कर दिया। टीएमसी मंगलवार को विरोध प्रदर्शन करेगी, पार्टी ने घोषणा की है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें