DA Image
25 मई, 2020|4:36|IST

अगली स्टोरी

राज्यसभा के लिए 37 निर्विरोध चुने गए, 18 सीटों के लिए 26 मार्च को होगी वोटिंग

the elections for remaining seats in the upper house will be held in madhya pradesh  rajasthan  jhar

राज्यसभा चुनाव के लिए 17 राज्यों में नामांकन वापस लेने की समय-सीमा बुधवार को समाप्त होने के बाद इसी सदन के उपसभापति हरिवंश और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार समेत सात राज्यों के 27 उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिए गए। उच्च सदन की 55 सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव कराए जाने का कार्यक्रम है। ये सीटें अगले महीने रिक्त होने जा रही हैं। 
 

राज्यसभा के लिए महाराष्ट्र में रिक्त हो रही सात सीटों, बिहार और पश्चिम बंगाल की पांच-पांच, ओडिशा की चार, हरियाणा की तीन, छत्तीसगढ़ की दो और हिमाचल प्रदेश की एक सीट पर उम्मीदवारों को संबद्ध निर्वाचन अधिकारियों ने निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया और उन्हें प्रमाण पत्र सौंपा। नामांकन वापस लेने की समय-सीमा बुधवार को समाप्त होने के बाद ये घोषणाएं की गई। विभिन्न राज्यों के निर्विरोध निर्वाचित सदस्य इस प्रकार हैं।
 

महाराष्ट्र-

एनसीपी के शरद पवार और फौजिया खान, आरपीआई-ए के रामदास आठवले, शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी, कांग्रेस के राजीव सातव, भाजपा के उदयनराजे भोंसले और भागवत कराड।
 

बिहार-

जदयू के हरिवंश और रामनाथ ठाकुर, भाजपा के विवेक ठाकुर और राजद के प्रेमचंद गुप्ता और अमरेंद्र धारी सिंह। 
 

पश्चिम बंगाल-

तृणमूल कांग्रेस से अर्पिता घोष, दिनेश त्रिवेदी, सुब्रत बख्शी, मौसम नूर तथा कांग्रेस समर्थित माकपा उम्मीदवार बिकास रंजन भट्टाचार्य। 
 

ओडिशा-

बीजद के सुभाष सिंह, मुन्ना खान, सुजीत कुमार और ममता महंत। 
 

हरियाणा-

भाजपा के राम चंदर जांगरा, दुष्यंत कुमार गौतम और कांग्रेस के दीपेंद्र सिंह हुड्डा। 
 

छत्तीसगढ़-

कांग्रेस की फूलोदेवी नेताम और केटीएस तुलसी। 
 

हिमाचल प्रदेश-

भाजपा के महिला मोर्चा की पूर्व प्रमुख इंदु गोस्वामी। 

निर्विरोध चुने गए शरद पवार, दीपेन्द्र हुड्डा समेत कई नेता

राज्यसभा चुनाव के लिये 17 राज्यों में नामांकन वापस लेने की समय सीमा बुधवार को समाप्त होने के बाद उच्च सदन के उप सभापति हरिवंश, पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार एवं दिनेश त्रिवेदी और कांग्रेस उम्मीदवार दीपेंद्र सिंह हुड्डा सहित कई उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिये गए। राज्यसभा की 55 सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव कराये जाने का कार्यक्रम है। राज्य सभा के लिए महाराष्ट्र में रिक्त हो रही सात सीटों, बिहार और पश्चिम बंगाल की पांच-पांच सीटों, ओडिशा में चार सीट, हरियाणा में तीन सीट और हिमाचल प्रदेश में एक सीट पर उम्मीदवारों को संबद्ध निर्वाचन अधिकारियों ने निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया है। 

नामांकन वापस लेने की समय सीमा बुधवार को समाप्त होने के बाद ये घोषणाएं की गई। हरियाणा से राज्यसभा के लिये भाजपा उम्मीदवार राम चंदर जांगरा और दुष्यंत कुमार गौतम तथा कांग्रेस उम्मीदवार दीपेंद्र सिंह हुड्डा बुधवार को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए। निर्वाचन अधिकारी अजीत बालाजी जोशी ने चंडीगढ़ में कहा, ''उन्हें राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया। नामांकन वापस लेने के अंतिम दिन इन तीनों उम्मीदवारों को उच्च सदन के लिए निर्वाचित घोषित किया गया।

हरियाणा से राज्यसभा चुनाव के लिये सभी उम्मीदवारों ने 13 मार्च को अपना पर्चा भरा था।  भाजपा ने पिछड़े वर्ग से आने वाले अपने नेता जांगरा और पार्टी उपाध्यक्ष गौतम को, जबकि कांग्रेस ने रोहतक के पूर्व सांसद दीपेंद्र को उम्मीदवार बनाया था। दीपेंद्र रोहतक से तीन बार लोकसभा सदस्य रह चुके हैं। पिछले साल विधानसभा चुनाव में भाजपा से निर्वाचित होने के बाद पार्टी के राम कुमार कश्यप के इस्तीफे और कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा का कार्यकाल अगले महीने खत्म होने के चलते राज्य में दो रिक्तियां हुई थी। जांगरा और दीपेंद्र का कार्यकाल अप्रैल 2026 तक होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:37 elected unopposed for Rajya Sabha next voting will be held on March 26 for remaining 18 seats