DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  गोवा के एक सरकारी अस्पताल में 26 कोरोना मरीजों की मौत, स्वास्थ्य मंत्री ने की हाईकोर्ट से जांच की मांग

देशगोवा के एक सरकारी अस्पताल में 26 कोरोना मरीजों की मौत, स्वास्थ्य मंत्री ने की हाईकोर्ट से जांच की मांग

पीटीआई,पणजीPublished By: Shankar Pandit
Tue, 11 May 2021 05:59 PM
गोवा के एक सरकारी अस्पताल में 26 कोरोना मरीजों की मौत, स्वास्थ्य मंत्री ने की हाईकोर्ट से जांच की मांग

गोवा के एक अस्पताल में मंगलवार सुबह 26 कोरोना मरीजों की मौत का मामला सामने आया है। गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने मंगलवार को कहा कि सरकारी गोवा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसीएच) में आज तड़के कोरोना वायरस के 26 मरीजों की मौत हो गई और उन्होंने मौत का उचित कारण पता लगाने के लिए हाईकोर्ट द्वारा मामले की जांच की मांग की है। उन्होंने बताया कि इन मरीजों की मौत देर रात दो बजे से सुबह छह बजे के बीच हुई जो तथ्य है, लेकिन मौत के कारण स्पष्ट नहीं हैं। 

जीएमसीएच का दौरा करने वाले गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा था कि मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता और जीएमसीएच में कोविड- 19 वार्ड तक इसकी आपूर्ति के बीच अंतर से रोगियों को कुछ समस्याएं हुई हैं। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि राज्य में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। वहीं, राणे ने पत्रकारों से बात करते हुए सोमवार को जीएमसीएच में ऑक्सीजन की आपूर्ति में कमी की बात स्वीकार की। 

मुख्यमंत्री के जीएमसीएच के दौरे के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'उच्च न्यायालय को मौत के उचित कारणों का पता लगाने के लिए जांच करनी चाहिए। उच्च न्यायालय को मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए और जीएमसीएच में ऑक्सीजन की आपूर्ति के संबंध में श्वेत पत्र तैयार करना चाहिए, जिससे चीजें दुरुस्त करने में मदद मिलेगी।' 

राणे ने कहा कि सोमवार को यहां मेडिकल ऑक्सीजन के 1200 बड़े सिलेंडर की जरूरत थी, लेकिन केवल 400 की ही आपूर्ति की गई। उन्होंने कहा, 'अगर मेडिकल ऑक्सीजन आपूर्ति की कमी है तो इस कमी को दूर करने के लिए चर्चा की जानी चाहिए। राणे ने कहा कि राज्य सरकार ने जीएमसीएच में कोविड-19 के उपचार पर नजर रखने के लिए नोडल अधिकारियों की जिस तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है, उसे मुख्यमंत्री को इस संबंध में जानकारी देनी चाहिए।' 

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने पीपीई किट पहनकर जीएमसीएच में कोविड-19 वार्ड का दौरा किया था, जहां उन्होंने मरीजों और उनके रिश्तेदारों से मुलाकात की थी। मुख्यमंत्री ने कहा था, 'इन वार्ड में ऑक्सीजन को लेकर जो समस्याएं हैं, उसे दूर किए जाने की जरूरत है। उन्होंने मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए वार्ड-वार एक तंत्र स्थापित करने की घोषणा भी की थी।  साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार वैश्विक महामारी से निपटने के लिए कड़े प्रयास कर रही है।' 

सावंत ने कहा कि हमारे पास प्रचुर मात्रा में मेडिकल ऑक्सीजन है। राज्य में इसकी कोई कमी नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि 10 मई तक के आंकड़ों के अनुसार, गोवा में कोविड-19 के कुल 1,21,650 मामले सामने आए हैं और संक्रमण से 1,729 लोगों की मौत हुई है। बता दें कि दिल्ली में भी बीते दिनों कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर कई मौतें हुईं थीं।

संबंधित खबरें