DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2005 राम जन्मभूमि आतंकी विस्फोट केस: 4 आरोपियों को उम्रकैद, एक को बरी किया

                                                                                                                                                                                                                                   ayodhya gov

चौदह साल पहले अयोध्या में अधिगृहीत परिसर में आतंकी हमले के मामले में विशेष अदालत ने एक आरोपी को दोषमु्क्त किया है जबकि चार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। स्पेशल जज एससीएसटी दिनेश चंद ने मंगलवार को सेंट्रल जेल नैनी में यह आदेश दिया। मामले की सुनवाई नौ जून को पूरी कर निर्णय सुनाने के लिए 18 जून की तारीख तय की गई थी।

पांच जुलाई 2005 को सुबह करीब सवा नौ बजे अयोध्या में अधिगृहीत परिसर में असलहों से लैस आतंकी घुस गए थे। सुरक्षा बलों से मुठभेड़ में पांच आतंकी मारे गए थे। दो निर्दोष लोगों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी थी। सात लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। इसके बाद हुई जांच में आतंकियों को असलहों की सप्लाई और मदद करने में आसिफ इकबाल, मो. नसीम, मो. अजीज, शकील अहमद व डॉ. इरफान का नाम सामने आया। सभी को गिरफ्तार कर पहले अयोध्या जेल में रखा गया। वर्ष 2006 में हाईकोर्ट के आदेश पर केंद्रीय कारागार नैनी (प्रयागराज) में दाखिल कर दिया गया। सुनवाई के बाद मंगलवार को साक्ष्य के अभाव में मो. अजीज को बरी किया गया जबकि आसिफ इकबाल, मो. नसीम, शकील अहमद व डॉ. इरफान को उम्रकैद की सजा सुनाई गई।

गौरतलब है कि पांचों आरोपी डॉ. इरफान, मो. नसीम, मो. अजीज, आशिक इकबाल उर्फ फारूक व मो. शकील नैनी जेल में निरुद्घ हैं। सुरक्षा कारणों से मामले की सुनवाई जेल में ही होती है। वरिष्ठ जेल अधीक्षक एचबी सिंह ने बताया कि अयोध्या प्रकरण की प्रतिदिन सुनवाई होती थी।

अनंतनाग एनकाउंटर: जवान शहीद, दो आतंकी ढेर, मुठभेड़ जारी

गौरतलब है कि पांच जुलाई 2005 को इस्लामिक आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के पांच आतंकवादियों ने अयोध्या स्थित राम जन्मभूमि परिसर की दीवार पर विस्फोटक भरी जीप से टक्कर मारी थी। जिसके बाद मुठभेड़ में वहां तैनात सुरक्षा बल ने सभी पांच आतंकियों को मार गिराया था। जबकि एक नागरिक आतंकियों द्वारा ग्रेनेड हमले में मारा गया था। सीआरपीएफ के तीन सिपाही भी हताहत हुए, जिनमें से दो गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस हमले के साजिशकर्ताओं के खिलाफ यह मुकदमा चल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:2005 Ram Janmabhoomi terror attack case prayagraj special court Verdict likely today Live Updates