DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिमाचल प्रदेश में बारिश का कहर, अलग-अलग हादसों में 18 लोगों की मौत

heavy rains in himachal pradesh

हिमाचल प्रदेश में बारिश संबंधी घटनाओं में कम से कम 18 लोगों की जान चली गई। इसकी पुष्टि वहां के एक अधिकारी ने की। पुलिस के मुताबिक शिमला स्थित आरटीओ कार्यालय के पास हुए भूस्खलन में तीन लोगों की मौत हो गई। एक अन्य अब भी मलबे के नीचे फंसा है। उन्होंने बताया कि एक अन्य घटना में भारी बारिश के कारण रविवार तड़के दीवार गिरने से एक मजदूर की मौत हो गई। हादसे में अन्य छह लोग घायल भी हुए हैं।

पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान शाह आलम के तौर पर हुई है, जो बिहार के किशनगंज जिले का रहने वाला था। शिमला के रोहड़ू सब डिवीजन में हटकोटी केंची के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पर भूस्खलन में एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं, कुल्लू में एक व्यक्ति सजवार नाले में बह गया। मृतक की पहचान चुन्नी लाल के तौर पर हुई है। चंबा जिले में भारी बारिश के कारण एक घर ढहने से दो लोगों की मलबे में दबने से मौत हो गई। हादसा लोना ग्राम पंचायत में देर रात करीब 3:30 पर एक घर ढहने से 70 वर्षीय एक व्यक्ति और सात वर्षीय एक बच्चे की मौत हो गई। वहीं, शिमला जिले के नारकंड इलाके में पेड़ के एक घर पर गिरने से दो नेपाली नागरिकों की जान चली गई और तीन अन्य घायल हुए हैं।

इस बीच, पंडोह और नाथपा बांध से पानी छोड़ दिया गया। ब्यास और सतलज नदियों में शनिवार को जल स्तर बहुत अधिक था, जिस कारण यह कदम उठाया गया। अधिकारी ने बताया कि लोगों से नदियों, छोटी नदियों और धाराओं से दूर रहने को कहा गया है।

भूस्खलन के कारण शिमला-कालका मार्ग पर ट्रेन सेवाएं बाधित
मूसलाधार बारिश के बाद कई जगह भूस्खलन होने से शिमला और कालका के बीच ट्रेन सेवाएं बाधित हो गईं। रेल अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के बाद शिमला-कालका के बीच चार-पांच स्थानों पर भूस्खलन हुआ। उन्होंने बताया कि कालका से शिमला जा रही ट्रेन सुबह तीन बजे रवाना हुई लेकिन भूस्खलन के कारण सुबह करीब पांच बजे उसे धर्मपुर रेलवे स्टेशन पर ही रोक दिया गया। उन्होंने बताया कि पटरी साफ होने तक ट्रेन परिचालन को वहां रोकने का फैसला किया गया है। पटरी साफ होने के बाद सोमवार को शिमला-कालका मार्ग पर ट्रेन सेवाएं बहाल हो सकती हैं।

शिमला में सोमवार को स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे
शिमला के सभी शैक्षिक संस्थान सोमवार को भी बंद रहेंगे। हिमाचल प्रदेश की राजधानी में अत्याधिक भारी बारिश की वजह से यह कदम उठाया गया है। जिला प्रशासन ने यह जानकारी दी। शिमला प्रशासन की ओर से रविवार को जारी एक पन्ने के आदेश में सभी स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, आईटीआई, पॉलीटेक्निक और आंगनवाड़ी केंद्रों को फिलहाल बंद रखने को कहा गया है। शिमला के उपायुक्त सह जिला मजिस्ट्रेट अमित कश्यप ने कहा कि भारी बारिश, सड़कों के क्षतिग्रस्त होने व उनके बाधित होने को देखते हुए छात्रों की सुरक्षा के मद्देनजर शिमला जिले के सभी शैक्षणिक संस्थानों को 19 अगस्त को बंद रखने का आदेश देना जरूरी हो गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:18 dead in different accident in Himachal Pradesh after heavy rains