DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस राज्य में आज से आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को नौकरी और शिक्षा में मिलेगा 10% आरक्षण

सवर्ण आरक्षण(प्रतिकात्मक तस्वीर)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) ने सामान्य श्रेणी के आर्थिक रूप से कमजोर तबके को सरकारी नौकरियों एवं शिक्षा में 10 फीसदी आरक्षण देने संबंधी विशेष प्रावधान को शनिवार को मंजूरी दी थी। इसके बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने कहा है कि उनकी सरकार ने फैसला लिया है कि यह कानून गुजरात में 14 जनवरी से लागू होगा।

पढ़ें शशि शेखर का ब्लॉग: मोदी का आरक्षण दांव और विपक्ष

केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी अधिसूचना में कहा गया कि संविधान (103वां संशोधन) अधिनियम, 2019 को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल गई है। संविधान (103वां संशोधन) अधिनियम के जरिए संविधान के अनुच्छेद 15 और 16 में संशोधन किया गया है। इसके जरिए एक प्रावधान जोड़ा गया है जो राज्य को ''नागरिकों के आर्थिक रूप से कमजोर किसी तबके की तरक्की के लिए विशेष प्रावधान करने की अनुमति देता है। 

उद्धव ठाकरे ने BJP से पूछा, आप राम मंदिर का निर्माण कैसे करेंगे

यह ''विशेष प्रावधान निजी शैक्षणिक संस्थानों सहित शिक्षण संस्थानों, चाहे सरकार द्वारा सहायता प्राप्त हो या न हो, में उनके दाखिले से जुड़ा है। हालांकि यह प्रावधान अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थानों पर लागू नहीं होगा। इसमें यह भी स्पष्ट किया गया है कि यह आरक्षण मौजूदा आरक्षणों के अतिरिक्त होगा और हर श्रेणी में कुल सीटों की अधिकतम 10 फीसदी सीटों पर निर्भर होगा।

मायावती को कांग्रेस का जवाब: लोकसभा चुनाव की लड़ाई BJP-कांग्रेस के बीच

इससे जुड़ा विधेयक नौ जनवरी को संसद से पारित किया गया था। अधिसूचना के मुताबिक, इस अनुच्छेद और अनुच्छेद 16 के उद्देश्यों के लिए 'आर्थिक रूप से कमजोर तबके वे होंगे जिन्हें सरकार समय-समय पर पारिवारिक आय और प्रतिकूल आर्थिक स्थिति के अन्य मानकों के आधार पर अधिसूचित करेगी। 

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी बोले, 1947 में जो चूक हुई ये उसका प्रायश्चित

अनुच्छेद 16 के संशोधन में कहा गया, ''इस अनुच्छेद में कोई भी चीज राज्य को धारा (4) में शामिल वर्गों के अलावा नागरिकों के आर्थिक रूप से कमजोर तबकों के पक्ष में नियुक्तियों या पदों के आरक्षण के लिए कोई प्रावधान करने से नहीं रोकेगा। यह मौजूदा आरक्षण के अतिरिक्त होगा और हर श्रेणी में अधिकतम 10 फीसदी पदों पर निर्भर करेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:10 percent reservation for weaker section in the general category implement Gujarat form 14 January 2019