ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशलॉकडाउन: मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर जुटी प्रवासी मजदूरों की भीड़, देवेंद्र फडणवीस ने सरकार को घेरा

लॉकडाउन: मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर जुटी प्रवासी मजदूरों की भीड़, देवेंद्र फडणवीस ने सरकार को घेरा

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण आज देश में लॉकडाउन की अंतिम तारीख को तीन मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस बीच महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में बांद्रा स्टेशन पर हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूरों...

लॉकडाउन: मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर जुटी प्रवासी मजदूरों की भीड़, देवेंद्र फडणवीस ने सरकार को घेरा
लाइव हिन्दुस्तान,मुंबईTue, 14 Apr 2020 08:09 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण आज देश में लॉकडाउन की अंतिम तारीख को तीन मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस बीच महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में बांद्रा स्टेशन पर हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूरों की भीड़ घर जाने के लिए इकट्ठा हो गई। यहां वे अपने-अपने घर जाने देने की मांग करने लगे।

भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करनी पड़ी। स्थानीय नेता के कहने पर भीड़ तितर-बितर हो गई। इस पूरे मामले पर गृह मंत्रई अमित शाह ने उद्धव ठाकरे को फोन कर हालातों की जानकारी ली है। इस दौरान गृह मंत्री ने सीएम ठाकरे से कहा कि इससे कोरोना वायरस के खिलाफ हमारी लड़ाई कमजोर होगी। प्रशासन को ऐसे हालातों से निपटने के लिए सतर्क रहना होगा। साथ ही उन्होंने पूर्ण समर्थन का भरोसा भी दिलाया।

वहीं,  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस घटना के लिए राज्य सरकार को आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा, बांद्रा में हुई घटना बहुत ही गंभीर है। हम पहले दिन से सरकार को बता रहे हैं कि जो प्रवासी मजदूर हैं जिनके पास राशन कार्ड नहीं है उनकी व्यवस्था सरकार को करनी होगी। सरकार ये व्यवस्था करने में असफल रही है।"

 

 

ये भी पढ़ें- बांद्रा स्टेशन पर भीड़ को लेकर BJP-शिवसेना आमने-सामने, कपिल मिश्रा बोले- दिल्ली की तर्ज पर मुंबई में भी साजिश

आदित्य ठाकरे का केंद्र सरकार पर आरोप
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के विधायक बेटे आदित्य ठाकरे ने इसको लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'केंद्र सरकार द्वारा मजदूरों के घर वापस जाने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई। वे खाना या आश्रय नहीं चाह रहे हैं। वे अपने घर वापस जाना चाह रहे हैं।'

आदित्य ठाकरे ने आगे कहा कि ट्रेनों का परिचालन शुरू से ही बंद है। महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र सरकार से 24 घंटे के लिए ट्रेन शुरू करने के लिए कही थी, जिससे कि प्रवासी मजदूर अपने-अपने प्रदेश वापस जा सके। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री के साथ बातचीत में भी प्रवासी मजदूरों को उनके घर वापस भेजने के लिए रोडमैप बनाने का मुद्दा उठाया था।

3 मई तक देश में लॉकडाउन
देशभर में जारी कोरोना कहर के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशव्यापी लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक बढ़ाने का फैसला लिया है। कोरोना वायरस लॉकडाउन के 21वें दिन देश के नाम संबोधन में मंगलवार को सुबह 10 बजे पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए देश में 3 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा। हालांकि, उन्होंने कहा कि 20 अप्रैल के बाद कुछ सीमित सेक्टर्स में सशर्त सीमित छूट दी जा सकती है।