DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कनाडा में चल रहे आइस फेस्टिवल के नजारे देखे आपने, यकिन मानिए दिल बोल उठेगा 'वाह'

1 / 4

2 / 4

3 / 4

4 / 4

PreviousNext

एक तो ठंड, ऊपर से बर्फ। सोचते ही शरीर में सिहरन सी होने लगती है, पर कलाकार जबरदस्त ठंड में भी बर्फ को ऐसा आकार दे देते हैं कि देखते ही दिल बोल उठता है—वाह! तो चलो जानते हैं बर्फ की ऐसी ही कलाकृतियों के बारे में बर्फ से बनने वाली कलाकृतियों को बनाते समय मौसम और वहां के तापमान का ध्यान रखना जरूरी है। सीधे शब्दों में कहें, तो जहां कम तापमान होगा, वहां ऐसी चीजें ज्यादा अच्छी बनेंगी और ज्यादा समय तक टिकेंगी। इसलिए बर्फ से बनी मूर्ति या अन्य कलाकृति मौसम और तापमान के हिसाब से पांच मिनट से लेकर एक महीने तक भी टिक सकती है।
बर्फ की चीजें बनाने के लिए बर्फ के क्यूब जमाए जाते हैं। इसके लिए साफ पानी से बने क्यूब का ही प्रयोग किया जाता है। इन्हें जमाने से पहले ध्यान रखा जाता है कि पानी में किसी प्रकार की गंदगी या हवा न रहे। हवा रह जाने से बर्फ के अंदर धुंधलापन आ जाता है। आजकल बर्फ जमाने के लिए ऐसी मशीने हैं, जो धीरे-धीरे बर्फ को जमाती हैं और उसमें से हवा के बुलबुले हटाती रहती हैं।  
कोई जरूरी नहीं कि सभी कलाकार बर्फ के क्यूब ही प्रयोग करें। कई बार प्राकृतिक रूप से जमी बर्फ का भी वे प्रयोग करते हैं। बड़े-बड़े महल बनाने के लिए कई बार पहाड़ों पर जमी बर्फ को काटकर भी लाया जाता है। कई बार टनों वजनी बर्फ के क्यूब भी जमाए जाते हैं, जिनका उपयोग महल या होटल बनाने में किया जाता है। इन क्यूबों को मशीनों द्वारा उस स्थान तक पहुंचाया जाता है, जहां कलाकृति बनाने की तैयारी होती है।
जब कलाकार अपना काम शुरू करता है तो सबसे पहले यह देखता है कि वहां का तापमान क्या है? अगर कलाकृति उस जगह बनानी है, जहां बहुत ठंड नहीं है तो कलाकार अपना काम बहुत जल्दी-जल्दी करते हैं, ताकि बर्फ पिघल न जाए। बर्फ पर आकृति बनाने के लिए कई औजार होते हैं, जिनमें चेनसॉ और डाई ग्राइंडर के साथ-साथ बर्फ को काटने वाली कई तरह की आरियां होती हैं। अब तो ऐसी मशीनें भी बन गई हैं, जिनके सहारे मनपसंद आकार में बर्फ को जमाकर प्रयोग कर लिया जाता है। बर्फ को रंगीन रूप देने के लिए रंगीन जेल का प्रयोग किया जाता है। 
अब तो दुनियाभर में आइस फेस्टिवल लोकप्रिय हो रहे हैं। इनमें दुनिया भर से कलाकार आते हैं और बर्फ से मूर्तियां और अन्य चीजें बनाकर अपनी कलाकारी दिखाते हैं। बेल्जियम में 2010 में एक आइस स्कल्पचर फेस्टिवल का आयोजन हुआ, जो तीन महीने तक चला। इसमें दुनिया भर से 3 लाख किलोग्राम बर्फ बेल्जियम में लाई गई और उसके सहारे कलाकारों ने तरह-तरह की मूर्तियां बनाईं। 
जनवरी के महीने में कई देशों में आइस फेस्टिवल का आयोजन होता है। कनाडा के क्यूबेक शहर में करीब 140 सालों से आइस फेस्टिवल का आयोजन हो रहा है। यहां बनाई गई कलाकृतियां देखने पूरी दुनिया से लोग आते हैं। इस बार यह प्रतियोगिता 11 फरवरी 2018 तक रहेगी।
स्वीडन में 1991 से बर्फ का होटल बनाने का चलन रहा है। उस होटल में पर्यटक बर्फ के बिस्तर पर सोते हैं। वहां मेज-कुर्सियां तक बर्फ से बनी होती हैं। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:See the views of the Ice Festival running in Canada