DA Image
22 जनवरी, 2021|9:08|IST

अगली स्टोरी

सिर्फ मशीन नहीं हैं अब रोबोट

आग, बाढ़, चक्रवात, युद्ध, दंगे-फसाद, महामारी...कुछ ऐसी मुसीबतें हैं, जिनमें फंसे लोगों को बचाने और राहत कार्य के लिए काम करना आसान नहीं होता। इसे आसान बना सकते हैं एआई से लैस रेस्क्यू रोबोट। दुनिया के वैज्ञानिक इन्हें बनाने में लगे हैं
तुम कह सकते हो कि पहले भी भूकंप, बाढ़ या दंगे-फसाद वगैरह में खुदाई की मशीनें, ड्रिल मशीन, बुलेटप्रूफ गाड़ियों जैसी मशीनें काम आती थीं, तो अब नया क्या है? नया यह है कि पहले इन मशीनों के साथ किसी न किसी इनसान का होना जरूरी था, क्योंकि मशीनों में यह समझदारी नहीं थी कि कहां ताकत इस्तेमाल करनी है और कहां दिमाग। पर अब जो रेस्क्यू रोबोट मशीनें हैं, वे खुद ही जानती हैं कि कहां नरमी से काम करना है, कहां ताकत से, किसे बचाना है, कैसे मुड़ना है, कैसे शेप बदलनी है और कैसे लोगों की देखभाल करते हुए उन्हें सही जगह पहुंचाना है। जैसे कि इटली में बना वॉकमैन रेस्क्यू रोबोट। छह फुट लंबे इस रोबोट में अति आधुनिक कैमरे और सेंसर्स हैं, जिनसे वॉकमैन अपने आसपास की सूचना पाकर उसी हिसाब से निर्णय लेता है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Robots are not just machines anymore