Small Hindi Moral Stories for Children, Kid’s for any ages, बाल कथा-कहानी| Page 1
  • 1
  • of
  • 47

पड़ोसी: यार तुम्हारे घर से रात में हंसने की इतनी आवाज क्यों आती है

पड़ोसी: यार तुम्हारे घर से रात में हंसने की इतनी आवाज क्यों आती है..?


गुड्डू : यार कुछ नहीं, बस मेरी बीवी मुझे जूते से मारती है। .. लग जाता है तो वो हंसती है ..और अगर नहीं लगता तो मैं हंसता हूं।