DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा चुनाव: मेघालय में 67, नगालैंड में 75 फीसदी मतदान

Nagaland assembly election 2018

1 / 5Nagaland assembly election 2018

meghalaya nagaland assembly polls

2 / 5meghalaya nagaland assembly polls

meghalaya and Nagaland assembly polls

3 / 5meghalaya and Nagaland assembly polls

meghalaya nagaland assembly polls

4 / 5meghalaya nagaland assembly polls

5 / 5प्रतिकात्मक तस्वीर।

PreviousNext

मेघालय और नगालैंड विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार शाम चार बजे तक क्रमश: 67 और 75 प्रतिशत मतदान हुआ। मेघालय के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एफआर खारकोंगोर ने कहा कि शाम चार बजे तक 67 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। मतदान शांतिपूर्ण रहा। वहीं, नगालैंड के उप निर्वाचन आयुक्त सुदीप जैन ने संवाददाताओं को बताया कि विधानसभा चुनाव में 11 लाख मतदाताओं में से 75 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।  मेघालय में वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में लगभग 88 प्रतिशत मतदान हुआ था जबकि 90 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था।

मेघालय में मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने अपने विधानसभा क्षेत्र अम्पती में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वह सोंगसाक सीट से भी चुनाव लड़ रहे हैं। डॉ संगमा ने यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस समान विचारधारा वाले दलों से बातचीत कर रही है, डॉ संगमा ने कहा, हमारे बहुत दोस्त हैं। मतदान शुरू होने के कुछ ही देर बाद वोट डालने वालों में मेघालय के राज्यपाल गंगा प्रसाद, राज्य के मंत्री अम्पारीन लिंगदोह, नेशनल पीपुल्स पार्टी के प्रमुख सी संगमा, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष शिबुन लिंगदोह और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के अध्यक्ष डॉ. डोनकूपर रॉय शामिल हैं। मेघालय में 1812440 मतदाता हैं। चुनाव में 361 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें 31 महिलाएं हैं। 80 निर्दलीय उम्मीदवार हैं।  

नगालैंड: अब तक कोई महिला MLA नहीं बनी, 54 साल में पहली बार 5 महिलाएं चुनाव मैदान में

हिंसा में एक की मौत

नगालैंड विधानसभा चुनाव के दौरान सत्तारूढ़ एनपीएफ एवं एनडीपीपी के बीच संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत हो गई तथा तीन अन्य घायल हो गए। नगालैंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) अभिजीत सिन्हा ने कहा कि जुन्हेबोटो जिले में दिन में 11 बजकर 10 मिनट पर नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) और नव गठित नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के समर्थकों के बीच संघर्ष हुआ। उन्होंने बताया कि संघर्ष से चुनाव प्रक्रिया प्रभावित नहीं हुई। सिन्हा ने बताया कि मोन जिले के तिजित गांव के मतदान केंद्र पर चुनाव शुरू होने से करीब एक घंटा पहले एक विस्फोट हुआ था। उन्होंने कहा, सुबह करीब पांच बजकर 45 मिनट पर मतदान केंद्र पर एक देसी बम फेंका गया। इसमें ग्रामीण परिषद का एक सदस्य यानलून मामूली रूप से घायल हो गया। केंद्र पर मतदान प्रभावित नहीं हुआ।

दोनों राज्यों में 59 सीटों के लिए हुआ मतदान

दोनों राज्यों में विधानसभा की 60-60 सीटें हैं परंतु दोनों जगह 59-59 सीटों के लिए मतदान हुआ। मेघालय में चुनाव से पहले राकांपा उम्मीदवार जोनाथन एन संगमा के मारे जाने के कारण विलियम नगर निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव स्थगित हो गया। जबकि नगालैंड में एनडीपीपी प्रमुख नेफियू रियो को उत्तरी अंगामी द्वितीय विधानसभा सीट से निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया जा चुका है।

बढ़ सकता है मतदान प्रतिशत

दोनों राज्यों के चुनाव अधिकारियों ने बताया कि मतदान प्रतिशत के बढ़ने की संभावना है क्योंकि मतदान शाम चार बजे बंद होना निर्धारित था इसके बाद भी कई मतदान केंद्रों पर लंबी-लंबी कतारें लगी होने की सूचना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Assembly elections: Voting for Nagaland and Meghalaya assembly