फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रबारामती जीतकर और भाभी को हराकर अजित पवार के घर पहुंचीं सुप्रिया सुले, लिया मां का आशीर्वाद

बारामती जीतकर और भाभी को हराकर अजित पवार के घर पहुंचीं सुप्रिया सुले, लिया मां का आशीर्वाद

सुप्रिया ने सुनेत्रा को 1,58,333 मतों से पराजित किया। बारामती सीट को पवार परिवार का गढ़ माना जाता है लेकिन यह पहली बार है जब परिवार के सदस्य ही एक दूसरे के खिलाफ मैदान में आमने सामने थे।

बारामती जीतकर और भाभी को हराकर अजित पवार के घर पहुंचीं सुप्रिया सुले, लिया मां का आशीर्वाद
pti06-05-2024-000220b-0 jpg
Nisarg Dixitएजेंसी,मुंबईFri, 07 Jun 2024 01:46 PM
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा शरद पवार) की ओर से बारामती लोकसभा सीट से जीत हासिल करने वाली पार्टी नेता सुप्रिया सुले ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने आज सुबह अपने चचरे भाई एवं महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार के घर जाकर अपनी चाची का आशीर्वाद लिया। बारामती सीट पर सुप्रिया सुले का सामना अजित पवार की पत्नी और रिश्ते में अपनी भाभी सुनेत्रा पवार से था। 

सुप्रिया ने सुनेत्रा को 1,58,333 मतों से पराजित किया। बारामती सीट को पवार परिवार का गढ़ माना जाता है लेकिन यह पहली बार है जब परिवार के सदस्य ही एक दूसरे के खिलाफ चुनाव मैदान में आमने सामने थे। इसलिए लोगों की दिलचस्पी इन सीट के परिणामों में अधिक थी। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद पहली बार बारामती पहुंचीं सुले ने पत्रकारों से कहा कि वह अजित पवार की मां आशा काकी के घर गईं और उनका आशीर्वाद लिया। 

उन्होंने कहा, 'चुनाव परिणाम के बाद मैं पहली बार बारामती आई हूं। सुबह मैं सबसे पहले आशा काकी और परिवार के अन्य बड़े लोगों का आशीर्वाद लेने घर गई।' इससे पहले सात मई को मतदान के दिन भी सुले ने अजित पवार के घर जाकर उनकी मां का आशीर्वाद लिया था। सुले ने कहा कि बारामती की जनता ने उन्हें लगातार चौथी बार जिता कर उनको बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। 

नवनिर्वाचित सांसद ने कहा, 'पानी की कमी से निपटना सबसे प्रमुख मुद्दा है। रोहित (पवार) और युगेन्द्र (पवार) ने इसके लिए योजना तैयार की है। हम अब सूखा प्रभावित क्षेत्रों में जाना शुरु करेंगे।' सुले ने कहा कि विधानसभा चुनावों को लेकर महा विकास अघाडी (एमवीए) और विपक्षी गठबंधन 'इंडिया' के सदस्यों में बातचीत हो रही है।