फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रबारामती से शरद पवार की बेटी के खिलाफ मैदान में 36 वर्षीय 'शरद पवार', पेशे से ऑटो ड्राइवर; बताया क्यों लड़ रहा चुनाव

बारामती से शरद पवार की बेटी के खिलाफ मैदान में 36 वर्षीय 'शरद पवार', पेशे से ऑटो ड्राइवर; बताया क्यों लड़ रहा चुनाव

बारामती सीट से एक शरद पवार नामक युवा नेता ने निर्दलीय पर्चा भरा है। 36 वर्षीय शरद पवार पेशे से ऑटो रिक्शा चलाते हैं और महाराष्ट्र के दिग्गज नेता शरद पवार जैसा ही नाम होने की वजह से चर्चाओं में हैं।

बारामती से शरद पवार की बेटी के खिलाफ मैदान में 36 वर्षीय 'शरद पवार', पेशे से ऑटो ड्राइवर; बताया क्यों लड़ रहा चुनाव
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईThu, 18 Apr 2024 03:35 PM
ऐप पर पढ़ें

Lok Sabha Chunav: लोकसभा चुनाव में जिन प्रमुख सीटों पर लोगों की नजरें रहने वाली हैं, उनमें एक सीट महाराष्ट्र की बारामती सीट भी है। यहां एनसीपी (अजित पवार गुट) की ओर से अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार को उतारा गया है, जबकि एनसीपी (शरद पवार गुट) की ओर से शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले फिर से मैदान में होंगी। अब इस बीच, एक नए निर्दलीय कैंडिडेट के नाम ने सभी को चौंका दिया है। दरअसल, बारामती सीट से एक शरद पवार नामक युवा नेता ने निर्दलीय पर्चा भरा है। 36 वर्षीय शरद पवार पेशे से ऑटो रिक्शा चलाते हैं और महाराष्ट्र के दिग्गज नेता शरद पवार जैसा ही नाम होने की वजह से चर्चाओं में हैं। 

चुनाव लड़ने की शरद पवार ने बताई वजह
'टाइम्स ऑफ इंडिया' के अनुसार, शरद पवार नामक युवक का कहना है कि उनका यह नाम भी एनसीपी के शरद पवार के नाम पर ही साल 1988 में उनके दादा ने रखा था। शरद पवार ने कहा, ''हमारी कोई नहीं सुनता। मुझे उम्मीद है कि साहब ही हमारी मदद करेंगे। मेरा नाम उन पर ही पड़ा है। जब वे बड़े मंत्री थे, तब मेरे दादा ने मेरा नाम रखा था।'' 36 वर्षीय शरद पवार ने चुनाव लड़ने की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा कि गिग श्रमिकों को उनके हाल पर ही छोड़ दिया गया है। इसी वजह से हमने चुनावी मैदान में उतरने का फैसला किया। प्रचार के लिए बहुत ज्यादा पैसे की जरूरत है, मुझे ऐसा नहीं लगता है। सोशल मीडिया के जरिए लाखों लोग हमारा सपोर्ट करेंगे।

कई और सीटों पर चुनाव लड़ रहा गिग वर्कर्स फ्रंट
बता दें कि इंडियन गिग वर्कर्स फ्रंट का शरद पवार भी हिस्सा हैं। यह फ्रंट महाराष्ट्र के पुणे, मावल और शिरूर सीटों पर भी अपने कैंडिडेट्स उतारने जा रहा है। मावल में कैब ड्राइवर संतोष वाल्गुड को टिकट दिया गया है, जबकि पुणे में टेम्पो ड्राइवर मनोज वेताल को मैदान में उतारा गया है। वहीं, शिरूर से फूड डिलिवरी करने वाले स्वप्निल को टिकट दिया गया। इंडियन गिग वर्कर्स फ्रंट के अध्यक्ष केशव क्षीरसागर का कहना है कि चारों उम्मीदवारों के समर्थन में 18 अप्रैल को कलेक्टर कार्यालय में एक रैली आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा, "वे अपना नामांकन दाखिल करेंगे और लोग हमारा समर्थन आधार देखेंगे।''

सात मई को बारामती सीट पर होगा चुनाव
लोकसभा चुनाव के पहले फेज के लिए वोटिंग कल यानी कि शुक्रवार से शुरू हो रही है। कुल साल चरणों में वोट डाले जाएंगे, जबकि महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों पर पांच फेज में 19 अप्रैल से 20 मई के बीच मतदान होगा। बारामती की बात करें तो यहां सात मई को वोटिंग होनी है। इस बार शरद पवार की बेटी और बारामती से सांसद सुप्रिया सुले को अजित पवार की पत्नी से कड़ी टक्कर मिलने की संभावना है। बारामती समेत देशभर की 543 लोकसभा सीटों पर वोटों की गितनी चार जून को होने वाली है।