फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रलॉरेंस बिश्नोई के भाई के डायरेक्ट टच में थे सलमान खान के घर पर गोली चलाने वाले शूटर, 4 लाख की थी सुपारी

लॉरेंस बिश्नोई के भाई के डायरेक्ट टच में थे सलमान खान के घर पर गोली चलाने वाले शूटर, 4 लाख की थी सुपारी

सूत्रों ने यह भी कहा है कि दोनों आरोपियों को फारिंग के लिए एक लाख रुपये का एडवांस भुगतान किया गया था। काम पूरा होने के बाद 3 लाख रुपये दिए जाने थे। यानी कि यह सुपाड़ी करीब चार लाख रुपये की थी।

लॉरेंस बिश्नोई के भाई के डायरेक्ट टच में थे सलमान खान के घर पर गोली चलाने वाले शूटर, 4 लाख की थी सुपारी
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,मुंबई।Thu, 18 Apr 2024 10:53 AM
ऐप पर पढ़ें

Salman Khan Firing Case Updates: बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान के घर पर गोलीबारी की घटना में अब तक तीन लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। इस मामले की जांच के लिए मुंबई क्राइम ब्रांच की चार टीमों को नई दिल्ली, बिहार, गुजरात और राजस्थान भेजा गया है। सूत्रों के मुताबिक, जांच के दौरान यह बात सामने निकलकर आई है कि अनमोल बिश्नोई इंटरनेट कॉलिंग के जरिए सागर पाल और विक्की गुप्ता के सीधे संपर्क में था। 

सूत्रों ने यह भी कहा है कि दोनों आरोपियों को फारिंग के लिए एक लाख रुपये का एडवांस भुगतान किया गया था। काम पूरा होने के बाद 3 लाख रुपये दिए जाने थे। यानी कि यह सुपारी करीब चार लाख रुपये की थी। इससे पहले पुलिस ने यह भी कहा था कि दोनों का इरादा हत्या करना नहीं, बल्कि सलमान खान को डराना था।

सूत्रों ने बताया कि आरोपी पुलिस के रडार पर तब आए जब उन्होंने बिश्नोई से बात करने के लिए अपने फोन चालू किए। पुलिस हथियार सप्लायर की भी तलाश कर रही है। मुंबई पुलिस ने अनमोल बिश्नोई के खिलाफ लुक-आउट सर्कुलर जारी किया है। वह इस समय कनाडा में है।

जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का छोटा भाई अनमोल बिश्नोई तब सुर्खियों में आया जब उसने हाल ही में एक फेसबुक पोस्ट के जरिए सलमान खान के घर के बाहर हुई फायरिंग की जिम्मेदारी ली थी।

आपपको यह भी बता दें कि गोलीबारी के तुरंत बाद दोनों आरोपियों ने मुंबई छोड़ दिया और भुज की ओर चले गए। पुलिस ने कहा कि सूरत के पास उन्होंने मोबाइल फोन का सिम कार्ड बदल दिया जिसका उपयोग वे बिश्नोई से बात करने के लिए कर रहे थे।

पुलिस को परेशान करने के लिए वे बार-बार अपना मोबाइल फोन बंद कर देते थे। लेकिन जिस नंबर पर उन्होंने कॉल किया वह हमेशा एक ही था। रविवार को सागर पाल और विक्की गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया गया।