फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रसलमान खान की हत्या का नहीं था इरादा; फिर क्यों की गैलेक्सी अपार्टमेंट पर फायरिंग, कितने पैसे मिले?

सलमान खान की हत्या का नहीं था इरादा; फिर क्यों की गैलेक्सी अपार्टमेंट पर फायरिंग, कितने पैसे मिले?

Salman Khan: बिहार के चंपारण के मूल निवासी विक्की गुप्ता और सागर पाल को सोमवार देर रात गुजरात के कच्छ जिले में माता नो माध गांव से गिरफ्तार किया गया था। दोनों की उम्र 24 और 21 साल है।

सलमान खान की हत्या का नहीं था इरादा; फिर क्यों की गैलेक्सी अपार्टमेंट पर फायरिंग, कितने पैसे मिले?
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,मुंबई।Thu, 18 Apr 2024 06:12 AM
ऐप पर पढ़ें

Salman Khan Firing: बीते 14 अप्रैल को महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान के बाहर कुछ लोगों ने फायरिंग की। इस मामले में मुंबई की क्राइम ब्रांच ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। उनसे पूछताछ पर यह पता चला है कि उनका इरादा सलमान खान को मारना नहीं, बल्कि डराना था। दोनों बिहार के रहने वाले हैं। उनके परिवार के लोगों का भी बयान दर्ज कर लिया गया है। मुंबई क्राइम ब्रांच को इस बात की भी जानकारी मिली कि आरोपियों ने सलमान खान के पनवेल स्थित फार्महाउस की भी रेकी की थी। दोनों ने लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के कहने पर यह काम किया था।

बिहार के चंपारण के मूल निवासी विक्की गुप्ता और सागर पाल को सोमवार देर रात गुजरात के कच्छ जिले में माता नो माध गांव से गिरफ्तार किया गया था। दोनों की उम्र 24 और 21 साल है। जांच से पता चला कि उन्होंने पैसे के लिए गोलीबारी की। गुजरात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि गुप्ता और पाल को जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह ने सलमान खान के घर पर गोली चलाने का काम सौंपा था।

मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान मिली जानकारी से पता चला है कि दोनों आरोपियों को 29 फरवरी से एक मार्च के बीच खान के आवास से सिर्फ एक किलोमीटर दूर बांद्रा में होटल ताज लैंड्स एंड के पास देखा गया था। उन्होंने कहा कि पाल हरियाणा में दो साल रहा था और पुलिस को संदेह है कि इसी दौरान वह बिश्नोई गिरोह के सदस्यों के संपर्क में आया और गुप्ता बाद में उनके साथ जुड़ा।

आपको बता दें कि बीते रविवार को तड़के करीब पांच बजे दो मोटरसाइकिल सवार युवकों ने बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट में सलमान के घर के बाहर गोली चलाई थी। पुलिस के अनुसार गैलेक्सी अपार्टमेंट पर चलाई गईं पांच गोलियों में से एक दीवार पर और एक सलमान के घर की गैलरी में लगी थी। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि बाइक पर पीछे बैठे हुए पाल ने गोली चलाई थी, वहीं गुप्ता बाइक चला रहा था और गिरोह के सदस्यों के साथ संपर्क में था।

हरियाणा से भी एक गिरफ्तार
सलमान खान के आवास के बाहर गोलीबारी के मामले में हरियाणा से एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि संदिग्ध का संबंध गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों में से एक से है और वे घटना से पहले तथा बाद में लगातार संपर्क में थे। उन्होंने कहा कि हिरासत में लिए गए व्यक्ति पर जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के छोटे भाई अनमोल बिश्नोई से निर्देश लेने का संदेह है।

अधिकारी ने कहा कि रविवार को यहां बांद्रा इलाके में खान के आवास पर गोलीबारी करने के आरोप में गिरफ्तार सागर पाल और विक्की गुप्ता हिरासत में लिए गए संदिग्ध को अपनी गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे थे तथा फोन इंटरनेट के माध्यम से किया गया था। उन्होंने कहा कि घटना के बाद पाल और गुप्ता मुंबई से भागकर भुज की ओर चले गए तथा सूरत के पास उन्होंने उस मोबाइल फोन का सिम कार्ड बदल दिया जिसका उपयोग वे बातचीत के लिए कर रहे थे।

मिले थे एक लाख रुपये
पुलिस ने पूर्व में दावा किया था कि पाल और गुप्ता को सलमान के आवास पर गोलीबारी करने के लिए लगभग एक लाख रुपये दिए गए थे तथा काम पूरा होने के बाद और अधिक पैसे देने का वादा किया गया था।