DA Image
27 जनवरी, 2021|10:24|IST

अगली स्टोरी

जानें क्या है 2018 का वह मामला, जिसके चलते मुंबई पुलिस ने अर्नब को गिरफ्तार किया

journalist arnab goswami will have to appear before the acp and give satisfactory reasons on why pre

मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी (अर्नब गोस्वामी) को गिरफ्तार कर लिया है। मुंबई पुलिस बुधवार की सुबह-सुबह अर्नब के घर में घुसी और फिर उन्हें गिरफ्तार किया और उन्हें अपने साथ अलीबाग ले गई है। इधर, अर्णब ने पुलिस पर अपने और परिवार के साथ मारपीट का आरोप लगाया। रिपब्लिक टीवी ने कुछ वीडियो दिखाया है, जिसमें पुलिस और अर्नब के बीच झड़प होती दिख रही है। मुंबई पुलिस ने 2018 से जुड़े एक केस के सिलसिले में अर्णब के खिलाफ यह कार्रवाई की है। 

पुलिस महानिरीक्षक (कोंकण रेंज) संजय मोहिते ने पुष्टि की कि अर्नब गोस्वामी को रायगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हालांकि, उन्होंने अधिक विवरणों देने से इनकार कर दिया। अर्नब को अलीबाग ले जाया जा रहा है और आज बाद में स्थानीय अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा। 

खुदकुशी के एक पुराने केस में मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक TV के एडिटर अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया

जानें किस मामले में हुई कार्रवाई
दरअसल, यह मामला 2018 का है, जब एक 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक ने मई 2018 में अलीबाग में आत्महत्या कर ली थी। इस घटना के बाद एक सुसाइड नोट मिला था, जो कथिततौर पर अन्वय द्वारा लिखा गया था। इस सुसाइड नोट में उन्होंने कहा था कि अर्नब गोस्वामी और दो अन्य ने उन्हें 5.40 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया, जिसकी वजह से उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा।

समाचार एजेंसी एएनआई ने अर्नब को हिरासत में लिए जाने के दौरान का वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि बड़ी संख्या में पुलिस बल हैं। अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस अपने साथ वैन में ले जाती दिख रही है। 

अर्नब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस ने सास-ससुर, बेटे और पत्नी के साथ मारपीट की है। रिपब्लिक टीवी ने अपने वीडियो फुटेज में दावा किया है कि मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी के साथ भी मारपीट की है।

53 वर्षीय इंटीरियर डिज़ाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक मई 2018 में अलीबाग तालुका के कावीर गांव में अपने फार्महाउस पर मृत पाए गए थे। अन्वय फर्स्ट फ्लोर पर मृत पाए गए, जबकि उनकी मां का शव ग्राउंड फ्लोर पर मिला था। इसके बाद 48 वर्षीय अन्वय की पत्नी अक्षता नाइक ने मामला दर्ज कराया था। उस घटना के बाद जो सुसाइड नोट मिला, उसमें मृतक ने आरोप लगाया था कि उसे और उसकी मां को अपनी जिंदगी समाप्त करने के लिए मजबूर होना पड़ा, क्योंकि उन्हें अर्नब गोस्वामी और दो अन्य फिरोज शेख और नितेश सरदा के द्वारा 5.40 करोड़ रुपये की बकाया राशि का भुगतान नहीं किया गया। 

मई 2020 में अन्वय नाइक की बेटी अदन्या ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख से से दोबारा जांच करने की गुहार लगाई। अदन्या ने आरोप लगाया कि अलीबाग पुलिस ने मामले की ठीक से जांच नहीं की थी। इसके बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने नए सिरे से जांच की घोषणा की। इससे पहले स्थानीय पुलिस ने यह कहते हुए मामला बंद कर दिया था कि मामले में दर्ज लोगों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं थे।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Republic TV editor Arnab Goswami Arrested By Mumbai Police Know what is the 2018 suicide abetment case