फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रMumbai Ghatkopar Hoarding Collapse: पेट्रोल भरवा रहे थे कि गिरा होर्डिंग, मुंबई में दंपति की मौत की दर्दनाक कहानी

Mumbai Ghatkopar Hoarding Collapse: पेट्रोल भरवा रहे थे कि गिरा होर्डिंग, मुंबई में दंपति की मौत की दर्दनाक कहानी

Mumbai Ghatkopar: बुधवार रात 60 वर्षीय मनोज चंसोरिया और 59 साल की अनिता की बताई जा रही है। चंसोरिया मुंबई एटीसी से मार्च में ही जनरल मैनेजर के पद से रिटायर हुए थे और दोनों जबलपुर शिफ्ट हो गए थे।

Mumbai Ghatkopar Hoarding Collapse: पेट्रोल भरवा रहे थे कि गिरा होर्डिंग, मुंबई में दंपति की मौत की दर्दनाक कहानी
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईThu, 16 May 2024 03:50 PM
ऐप पर पढ़ें

Mumbai Ghatkopar Hoarding Collapse: मंबई में सोमवार को हुए होर्डिंग हादसे में कुल 16 लोगों की मौत हो चुकी है। अंत में एक महिला और पुरुष की लाश उनकी कार में बरामद हुई है। बुजुर्ग दंपति पेट्रोल भरवाने पहुंचे था, लेकिन हादसे का शिकार हो गया। खास बात है कि 250 टन वजनी होर्डिंग के नीचे करीब 100 लोग दब गए थे। खबर है कि NDRF की तरफ से भी अब बचाव कार्य बंद कर दिया गया है।

बुधवार रात 60 वर्षीय मनोज चंसोरिया और 59 साल की अनिता की बताई जा रही है। चंसोरिया मुंबई एटीसी से मार्च में ही जनरल मैनेजर के पद से रिटायर हुए थे और दोनों जबलपुर शिफ्ट हो गए थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस का कहना है कि दोनों अनिता चंसोरिया के वीजा से जुड़े काम के चलते कुछ दिनों के लिए मुंबई आए थे।

खास बात है कि काम पूरा करने के बाद दोनों जबलपुल लौट रहे थे और पेट्रोल भरवाने के लिए रास्ते में घाटकोपर पंप पर रुके थे। तभी तेज तूफान आया और हादसा हो गया। अब अमेरिका में रहने वाले उनके बेटे ने बातचीत की कोशिश की, लेकिन संपर्क नहीं होने के कारण उसने दोस्त की मदद ली। उनके दोस्त ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

जब पुलिस ने दोनों के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की, तो अंतिम लोकेशन घाटकोपर में पेट्रोल पंप के पास मिली। इस घटना में कुल 16 लोगों की मौत हो चुकी है और 41 गंभीर रूप से घायल हैं। इलाज के बाद 34 लोग अपने घर लौट चुके हैं। इधर, पुलिस को मालिक की भी तलाश है। उसके खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है।

NDRF ने बंद किया काम
पीटीआई भाषा के अनुसार, बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने मुंबई के घाटकोपर इलाके में उस जगह पर खोज एवं बचाव अभियान को अब बंद करने की घोषणा की है, जहां एक विशालकाय होर्डिंग गिर गया था। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने बताया कि सोमवार शाम बैमोसम बारिश और तेज आंधी के दौरान छेड़ानगर इलाके में एक पेट्रोल पंप पर लगा विशालकाय होर्डिंग गिर गया था, जिसके बाद उसके नीचे दबे लोगों को बाहर निकालने के लिए 66 घंटे तक तक खोज एवं बचाव अभियान चलाया गया। एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने बताया कि गुरुवार सुबह साढ़े दस बजे अभियान को समाप्त कर दिया गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें