फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रMonsoon Update: लो आ गई बड़ी खुशखबरी, यहां पहुंच गया मॉनसून; दो दिन पहले ही हो गई एंट्री

Monsoon Update: लो आ गई बड़ी खुशखबरी, यहां पहुंच गया मॉनसून; दो दिन पहले ही हो गई एंट्री

Monsoon Update: पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश से मई के अंत में गुजरे चक्रवात रेमल ने मॉनसून को बंगाल की खाड़ी की ओर खींच लिया जिसके परिणामस्वरूप पूर्वोत्तर में मॉनसून का आगमन समय से पहले हो गया है

Monsoon Update: लो आ गई बड़ी खुशखबरी, यहां पहुंच गया मॉनसून; दो दिन पहले ही हो गई एंट्री
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईSun, 09 Jun 2024 05:18 PM
ऐप पर पढ़ें

Monsoon Updates: दक्षिण-पश्चिम मॉनसून केरल और पूर्वोत्तर क्षेत्र में 30 मई को समय से पहले पहुंचने के बाद मुंबई में भी सामान्य से दो दिन पहले रविवार को पहुंचा गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। सामान्यतः मॉनसून एक जून तक केरल और 11 जून तक मुंबई तथा 27 जून तक राष्ट्रीय राजधानी पहुंच जाता है। मौसम विभाग ने केरल में मॉनसून के 15 मई को 31 मई तक पहुंचने की संभावना जताई थी। 

मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश से मई के अंत में गुजरे चक्रवात रेमल ने मॉनसून को बंगाल की खाड़ी की ओर खींच लिया जिसके परिणामस्वरूप पूर्वोत्तर में मॉनसून का आगमन समय से पहले हो गया है। केरल में मॉनसून के आगमन की सामान्य तिथि एक जून तथा अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, नगालैंड, मेघालय, मिजोरम, मणिपुर और असम में पांच जून है। पूर्वोत्तर भारत में सामान्य से कम, उत्तर-पश्चिम में सामान्य और देश के मध्य और दक्षिण प्रायद्वीप क्षेत्रों में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है। 

मुंबई और अन्य जिलों में भारी बारिश,यातायात प्रभावित
मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई, जिससे तापमान कम हुआ और लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारी बारिश के कारण महाराष्ट्र के पड़ोसी पालघर जिले में सड़क का एक हिस्सा धंस गया जिससे रविवार सुबह मुंबई-अहमदाबाद राजमार्ग पर चार घंटे से अधिक समय तक यातायात प्रभावित रहा। पुलिस नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि पाइपलाइन सहित मरम्मत कार्य जारी थे तभी भारी बारिश के कारण पालघर के मालजीपाड़ा इलाके में सड़क का एक हिस्सा धंस गया। उन्होंने बताया कि इससे यातायात ठप हो गया और सड़क के दोनों ओर आवाजाही बाधित हो गई। 

रविवार सुबह 5.30 बजे से यातायाज जाम में फंसे कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि समस्या पर कोई भी ध्यान नहीं दे रहा है। ठाणे, नासिक, छत्रपति संभाजीनगर, अहमदनगर, सातारा और जलगांव सहित महाराष्ट्र के कई अन्य जिलों में भी पिछले एक दिन में अच्छी बारिश हुई। रविवार सुबह 8.30 बजे समाप्त 24 घंटे की अवधि में मुंबई में 60 मिमी से अधिक बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी)के अनुसार, दक्षिण मुंबई में स्थित कोलाबा वेधशाला, जहां राज्य सरकार के अधिकांश प्रशासनिक कार्यालय स्थित हैं, में 67 मिमी बारिश दर्ज की गई, जबकि छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास सांताक्रूज़ वेधशाला में इसी अवधि में 64 मिमी बारिश दर्ज की गई। कोलाबा वेधशाला ने अधिकतम तापमान 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो सामान्य से 1.1 डिग्री अधिक है, जबकि न्यूनतम तापमान 24.3 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से 2.9 डिग्री कम है। 

Advertisement