DA Image
7 अप्रैल, 2021|4:48|IST

अगली स्टोरी

कोरोना केसों में उछाल से ऑक्सीजन की किल्लत, महाराष्ट्र ने केंद्र से कहा- पड़ोसी राज्यों से कराओ इंतजाम

oxygen

महाराष्ट्र में अब हर दिन आ रहे 50 हजार से अधिक कोरोना केसों के बीच ऑक्सीजन की कमी होने लगी है। राज्य सरकार के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को केंद्र सरकार से कहा है कि पड़ोसी राज्यों से इसकी आपूर्ति कराई जाए। राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पहले ही कह चुके हैं कि इस तरह केस बढ़ते रहे तो आने वाले कुछ दिनों में संसाधन कम पड़ जाएंगे। बता दें, कोरोना के जिन मरीजों को सांस लेने में दिक्कत होती है, उन्हें ऑक्सीजन देकर बचाया जाता है।

टोपे ने कहा, ''राज्य में 12 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन होता है और 7 टन से अधिक प्रतिदिन खर्च हो रहा है। हमने अपील की है कि पड़ोसी राज्यों से मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति कराई जाए। यदि जरूरत पड़ी तो हम उन उद्योगों को बंद कर देंगे जिन्हें ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है, लेकिन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति को प्रभावित नहीं होने देंगे।''

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ''मेडिकल यूज ऑक्सीजन पाने के लिए हम कई टेक्नॉलजी पर काम कर रहे हैं। मंगलवार को हमने उस तकनीक की जानकारी ली जिससे हवा से ऑक्सीजन को एकत्रित किया जा सकता है। इससे लिक्विफाइड और प्रेशराइज्ड ऑक्सीजन की आवश्यकता कम हो जाएगी।'' टोपे ने आगे कहा कि राज्य सरकार मुंबई, पालघर और दूसरे इलाकों में प्रस्तावित ऑक्सीजन प्लांट लगाने के काम में तेजी ला रही है। 

गौरतलब है कि देश में महामारी की शुरुआत होने के बाद से कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक के सबसे ज्यादा मामले आए हैं। पिछले 24 घंटे में 1.15 लाख से ज्यादा नए मामलों के साथ संक्रमितों की कुल संख्या 1,28,01,785 हो गई है। इसमें से सर्वाधिक 55 हजार केस अकेले महाराष्ट्र में आए, जबकि राज्य में 24 घंटे के भीतर 297 लोगों की मौत हो गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maharashtra requested Centre for the supply of oxygen from nearby states